अतीत के साथ वर्तमान को समावेश कर मनाया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

0
24

लहेरियासराय,08 मार्च।मिल्लत कॉलेज राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में डॉ एपीजे अब्दुल कलाम मल्टीपरपस हॉल में  अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पूरे उत्साह के साथ मनाया गया। समारोह की अध्यक्षता करते हुए प्राचार्य प्रोफेसर सरदार अरविंद सिंह ने कहा कि महिलाएं आज जीवन के हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं तथा इनकी तरक्की से ही परिवार, समाज तथा देश खुशहाल हो सकता है।

  डॉ सिंह ने महिलाओं पर हो रहे अत्याचार तथा अन्याय के खिलाफ तमाम लोगों को एकजुट होकर आवाज उठाने की जरूरत पर बल दिया तथा आह्वान किया कि लोग आज महिला सशक्तिकरण की दिशा में तत्परतापूर्वक कार्य करने का संकल्प लें।

  मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित वार्ड पार्षद श्रीमती निकहत परवीन ने कहा कि महिला  एक बार जो ठान लेती है उसे हर हाल में पूरा करती है। आज महिलाएं पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं तथा सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ रही हैं। श्रीमती निकहत परवीन ने महिला शिक्षा को और अधिक गति देने तथा उन्हें ज्यादा से ज्यादा मजबूती प्रदान करने की आवश्यकता बतलाई।

    कॉलेज के पूर्व प्राचार्य प्रोफेसर विजय मिश्रा ने कहा कि महिलाएं पूरे विश्व में अपनी क्षमता के बल पर आगे बढ़ रही हैं तथा आज वो किसी से कम नहीं हैं। आवश्यकता है कि उन्हें  विभिन्न क्षेत्रों में आगे बढ़ने का ज्यादा से ज्यादा अवसर प्रदान किया जाए जिससे वे ज्यादा से ज्यादा स्वाबलंबी तथा आत्मनिर्भर बन सकें।

     इस अवसर पर प्रो शहनाज़ बेगम ने कहा कि महिलाओं ने अपनी स्थिति में लगातार सुधार किया है तथा सामाजिक, आर्थिक एवं राजनीतिक सहित सभी स्तरों पर पूर्व की अपेक्षा ज्यादा मजबूत हुई हैं।डा० इस्मत जहां ने महिलाओं पर हो रहे अत्याचार की चर्चा करते हुए उन्हें भरपूर सम्मान प्रदान करने की जरूरत बतलाई।

   समारोह का मंच संचालन डॉ महेश चन्द्र मिश्र ने तथा धन्यवाद डॉ मुस्तफा कमाल अन्सारी ने किया जबकि कार्यक्रम की रूपरेखा एन एस एस की कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ सोनी शर्मा ने  प्रस्तुत की।इस अवसर पर कालेज के शिक्षक,शिक्षकेतर कर्मचारी, एन एस एस के स्वयंसेवकों सहित काफी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

संत टेरेसा प्राइमरी शिक्षक प्रशिक्षण कॉलेज में

बेतिया में भी अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया। हर साल 8 मार्च को मनाया जाता है। जिसके ज़रिए महिलाओं के प्रति सम्मान, प्रशंसा और प्यार प्रकट करते हुए महिलाओं के लिए खास कार्यक्रम आयोजित किया गया। सबसे पहला महिला दिवस 1909 में न्यूयॉर्क में मना जिसके बाद 1917 से इसकी अधिकारिक घोषणा कर दी गई और 8 मार्च अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया जाने लगा।

अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर रंगारंग कार्यक्रम तुलसी बिगहा में

नालंदा में गैर सरकारी संस्था है बिहार वाटर डेंवलपमेंट सोसाइटी के द्वारा रंगारंग कार्यक्रम ।प्रदेश कार्यालय सेवा केंद्र,कुर्जी में है।बिहार वाटर डेंवलपमेंट सोसाइटी के सचिव फादर अमल राज हैं।इनके नेतृत्व में कई जिलों में महिला सशक्तिकरण के ऊपर शानदार कार्य किया जाता है।आज अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर रंगारंग कार्यक्रम सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के सिलाव प्रखंड में किया गया।तुलसी बिगहा में कार्यक्रम किया गया।

आलोक कुमार