आज पंजाब की रैली में नहीं पहुँचे मोदी

4
77

पंजाब,
5 जनवरी,
आज पंजाब के फिरोजपुर में भाजपा की रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नहीं पहुंच पाए। इसके पीछे सुरक्षा के पुख्ता इन्तजाम नहीं होने का कारण बताया जा रहा है। लेकिन भाजपा और केंद्रीय मंत्रियों के और नेताओं के पुरजोर कोशिश के बाद भी लगभग खाली मैदान से निराश मोदी को पहले ही पता चल गया था कि वहाँ जाने से भद्द ही पिटेगी। इसके साथ ही सबसे ज्यादा डर किसान आंदोलन के भूत से है। कुछ दिनों पहले संयुक्त किसान मोर्चा के पंजाब चैप्टर के नेताओं की बैठक हुई थी, और किसान नेताओं ने मोदी की रैली का विरोध करने का ऐलान किया था। इस बारे में एक खबर UNA के पोर्टल पर भी आयी थी इसका लिंक इस प्रकार है ( SAMYUKT KISAN MORCHA ON MODI’s PUNJAB VISIT: “PM IS NOT WELCOME IN PUNJAB” https://unanews.in/74647-2/)

प्रधानमंत्री के अचानक हेलीकॉप्टर से जाने वाले कार्यक्रम को बदल कर सड़क मार्ग से ले जाने का फैसला भी सवालों के घेरे में है, वहीं भाजपा के नेताओं ने प्रधानमंत्री के सुरक्षा को महत्वपूर्ण माना है जबकि कांग्रेस और अन्य विपक्षी पार्टियों ने इसे राजनीतिक स्टंट बताया है और कहा है कि रैली में भीड़ के नगण्य होने की खीज सुरक्षा पर उतारा जा रहा है।
राजनीतिक विश्लेषक बता रहे हैं कि भाजपा वाले और प्रधानमंत्री आखिर सुरक्षा का बहाना क्यों बना रहे हैं जबकि PM के आने जाने के रूट पर SPG 48 घंटे पहले कब्जा कर लेती है। state police का चीफ भी उसी के आर्डर पर काम करता है। IB और RAW भी पल पल की खबर रखते हैं, मिलिट्री इनटेलीजेंस भी एक्टिव रहती है। पास का हवाई अड्डा और सरे अस्पताल अलर्ट कर दिए जाते हैं। PM के खून के ग्रुप का खून रिज़र्व कर दिया जाता है। इतना सब तामझाम होता है और PM जाम में फंस जाते हैं यह कैसे संभव है ? कांग्रेस ने कहा है कि यह एक third क्लास के ड्रामा की स्क्रिप्ट है पंजाब की सरकार को बदनाम करने की

4 COMMENTS

  1. İslam Öncesi Orta Asya Türk Dünyasında Tababet. Otacı ve emçi olarak isimlendirilen hekimler,
    kamların aksine bitki, hayvan ve mineral kökenli ilaçlarla hastalarını tedavi ederlerdi.
    Otacı, ot kelimesinden türetilmiştir. Eski türkçede ot, tıbbi bitki, ilaç, zehir ve kendiliğinden yetişen bitki anlamındadır.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here