इल्तिजा मुफ्ती ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अयोध्या यात्रा गलत संदेश दे रही हैं

0
130

5 अगस्त, 2019, यह वही तारीख है, जब जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाया गया था। कल यानी 5 अगस्त, 2020 को धारा 370 के हटने के एक साल पूरे हो रहे हैं। राज्य का विशेष दर्जा खत्म किए जाने से स्थानीय राजनीतिक पार्टियां नाखुश हैं। इन्हीं पार्टियों में से एक है जम्मू-कश्मीर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी यानी पीडीपी।
पीडीपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने इंडिया टुडे से खास बातचीत में कहा कि अगर जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक दल राज्य के लिए, धारा 370 और 35ए के लिए नहीं लड़ते हैं, तो वे अपने राजनीतिक जमीन और अपनी पहचान को खो देंगे। उन्होंने 5 अगस्त को काला दिन बताया। पढ़ें- महबूबा मुफ्ती की हिरासत 3 महीने और बढ़ी, PSA के तहत कार्रवाई इल्तिजा मुफ्ती ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अयोध्या यात्रा गलत संदेश देती है। अयोध्या जाकर पीएम मोदी विफल अर्थव्यवस्था, महंगाई और बेरोजगारी से लोगों का ध्यान हटाना चाहते हैं। इल्तिजा ने कहा कि मैं अमित शाह को जल्द स्वस्थ्य होने की शुभकामना देती हूं। भले ही उन्होंने हमारे साथ गलत किया गया हो। मैं उनके पूर्ण स्वस्थ होने की कामना करती हूं। इल्तिजा मुफ्ती ने कहा कि गृह मंत्रालय और प्रधानमंत्री कार्यालय को जवाब देना चाहिए कि मेरी मां अब भी हिरासत में क्यों हैं? इल्तिजा ने कहा कि मोदी सरकार ने राज्य के अनुच्छेद 370, 35 ए को छीन लिया है। अगर मुख्यधारा की पार्टियां लड़ाई नहीं लड़ती हैं तो वह अपनी विश्वसनीयता खो देंगी।(UNA)