उड़ीसा ⁄ भुवनेश्वर गांजे की खेती नष्ट करने में नंबर वन ओडिशा: 2020-21 में 23,537 एकड़ में फैली पैदावर की नष्ट

0
6

भुवनेश्वर/कटक,देश में गांजे की पैदावार नष्ट करने के मामले में ओडिशा शीर्ष पर पहुंच गया है। राज्य सरकार द्वारा गठित स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की निगरानी में ओडिशा पुलिस की कार्रवाई ने तस्करों की कमर तोड़ दी है। एसटीएफ के अधियान से नक्सलियों को भी बड़ा झटका लगा है, क्योंकि ज्यादातर गांजे की खेती नक्सल प्रभावित जिलों और क्षेत्रों में होती है। अक्सर यह इलाका दुर्गम होता है, जिससे किसी की नजर नहीं पड़ती है। नक्सलियों का आर्थिक स्रोत का बड़ा जरिया होता है।
जानकारी के अनुसार, ओडिशा में साल 2020-21 में 23,537 एकड़ में गाजे की खेती को नष्ट किया गया है। देश में इतनी बड़ी मात्रा में गांजा की खेती नष्ट अब तक किसी भी राज्य में नहीं हुई है। इस संदर्भ में दैनिक जागरण से बात करते हुए एसटीएफ के आरक्षी उप महानिरीक्षक जयनारायण पंकज ने कहा कि ओडिशा में ड्रग्स माफिया का सफाया हमारा बड़ा लक्ष्य है। पंकज ने जांच के पाये गये तथ्यों के आधार पर कहा कि राज्य में युवा एवं बच्चे ड्रग्स माफियाओं के निशाने पर हैं, उन्होंने बताया कि ओडिशा में साल 2017-18 में 4632 एकड़, 2018-19 में 11,627 एकड़, 2019-20 में 18,294 एकड़ तथा 2020-21 में 23,537 एकड़ में फैली गांजे की पैदावर नष्टकी गयी है। उन्होंने कहा कि यह आंकड़ा एक रिकॉर्ड स्तर पर है, जो भारत के किसी भी राज्य द्वारा अब तक की गयी कार्रवाई में सबसे अधिक है।