उड़ीसा ⁄ भुवनेश्वर Vat Savitri Vrat 2021: सावित्री पूजा की खरीददारी को उमड़ा हुजूम, कोविड नियम उल्लंघन मामले में 18 दुकानें सील

0
76

भुवनेश्वर, प्रदेश में हर दिन हजारों की संख्या में संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं, लोगों की जाने जा रही हैं, सरकार से लेकर प्रशासन तक लोगों को बेवजह घर से बाहर ना निकलने एवं बाजारों में भीड़ जमा ना करने की हिदायत दी हुई है, बावजूद इसके सावित्री पूजा से ठीक पहले आज राजधानी भुवनेश्वर के तमाम बाजारों में खासकर फलों की दुकानों पर लोगों का अच्छा खासा हुजूम देखने को मिला है। सावित्री पूजा के लिए लोग विभिन्न प्रकार के फल-फूल इत्यादि सामग्री खरीदते देखे गए। लोगों की भीड़ देखने के बाद लग रहा था मानो कोरोना खत्म हो गया है। हर कोई सावित्री पूजा के लिए खरीददारी में लगा दिखा।
प्रशासन ने लापरवाही बरतने वाली 18 दुकानों को सील कर दिया है। घर में ही रहकर सावित्री पूजा करने के निर्देश जानकारी के मुताबिक सावित्री पूजा के लिए खरीददारी करने को राजधानी भुवनेश्वर में मौजूद तमाम दुकानों में हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ी। लॉकडाउन एवं शटडाउन के बीच घर में ही रहकर सावित्री पूजा करने के लिए सरकार एवं प्रशासन ने निर्देश जारी किया हुआ है। हालांकि व्रत के लिए साड़ी, के साथ फल आदि सामग्री खरीदने के लिए राज्य भर में विभिन्न बाजारों में आज लोगों की भीड़ देखी गई। पूर्वाह्न 11 बजे तक ही दुकान बाजार खुले रहने की अनुमति होने के कारण कई जगहों पर सरकारी दिशा निर्देश का उल्लंघन हुआ।
18 दुकानें हुईं सील
विभिन्न जगहों पर लोगों में जागरूकता की भी कमी दिखी और कई जगह पर तो लोग व्यक्तिगत दुराव तो दूर की बात है, मास्क भी नहीं पहने हुए थे। ऐसे में इसकी सूचना प्रशासन को मिलते ही विभिन्न बाजारों में प्रशासन की तरफ से छापामारी की गई और कोविड नियम उल्लंघन करने के आरोप में 18 दुकानों को सील कर दिया गया है।
डेढ़ गुणा बढ़े फलों के दाम
वहीं दूसरी तरफ सावित्री पूजा को देखते हुए व्यापारियों ने आज विभिन्न फलों के दाम लगभग डेढ़ गुणा कर दिए थे। पहले सेब जहां प्रति किलो 180 से 190 रुपये में मिल रहा था वहीं आज सेब की कीमत प्रति किलो 270 से 280 रुपये, अनार की कीमत 250 से 260 रुपये प्रति किलो में लोग खरीदने को मजबूर हुए हैं। फलों के दाम बढ़ने के बावजूद सावित्री पूजा होने के चलते लोग रस्म अदायगी के लिए ही सही मजबूरी में अधिक दरों पर फल खरीदते देखे गए।