उत्तराखंड की राज्यधानी देहरादून में राज्य कर्मचारी सयुक्त परिषद की बैठक 28 को सम्पन्न

0
13
उत्तराखंड के राज्य कर्मचारी सयुक्त परिषद की बैठक में प्रदेश कार्यकारी महामंत्री श्री अरुण पाण्डे ने बताया है कि आज परिषद का एक प्रतिनिधि मण्डल श्रीमती मनीष पवार अपर मुख्य सचिव ,ग्राम्य विकास उत्तराखंड शासन से उनके सचिवालय स्थित कक्ष में मिला, क्या मिला उन्होंने नही बताया ।

उन्होंने बताया कि प्रतिनिधि मंडल के अपर मुख्य सचिव महोदया को अवगत कराया है कि ग्राम्य विकास आयुक्त कार्यालय द्वारा ग्राम्य विकास अधिकारियों की पद्दोन्नति लगभग डेढ़ माह पूर्व हो गयी है किंतु अतिथि तक उनके तैनाती आदेश जारी न होने के कारण से उन्हें पद्दोन्नति का लाभ नही मिल पा रहा है यहां तक कि गत माह एक कार्मिक पद्दोन्नति होने के वाबजूद बिना उसका लाभ उठाएं ही सेवानिवृत हो चुकी है उल्लेखनीय है कि लगभग 20 से 25 वर्ष की सेवा के दौरान यह प्रथम पद्दोन्नति इन कार्मिको को प्राप्त हुई है अपर मुख्य सचिव महोदया ने परिषद को अवगत कराया है कि उक्त प्रकरण कार्मिक विभाग की सलाह पर शासन की उच्चाधिकार प्राप्त समिति के समक्ष प्रस्तुत किया जाना है क्योंकि तैनाती के साथ -साथ स्थानातरण की प्रकिया भी की जानी है जो कि स्थानांतरण एक्ट के अंतर्गत आ रहा है उक्त के सम्बंध में कार्यवाही शासन स्तर पर गतिमान है एंव शीघ्र ही बैठक के उपरान्त तैनाती आदेश जारी कर दिये जायेंगे। श्री पाण्डे ने बताया कि अपर मुख्य सचिव महोदया से इस सम्बंध में प्रतिनिधिमंडल ने अनुरोध किया है कि समिति की बैठक में समय लगने की संभावना के दृष्टिगत उचित होगा कि पद्दोनन्त कार्मिको को विभाग में रिक्त पद के सापेक्ष अपने वर्तमान तैनाती स्थान पर ही योगदान करने हेतु आदेश निर्गत कर दिये जायें। जिससे कि उन्हें पद्दोन्नति के पद का लाभ प्राप्त हो सके, क्योकि लगभग प्रतिमाह पद्दोनन्त किये गए कार्मिको में से कार्मिक सेवानिवृत्त हो चुकी है। परिषद के इस अनुरोध को अपर मुख्य सचिव महोदया ने तत्काल स्वीकार करते हुए ग्राम्य विकास आयुक्त को दूरभाष पर परिषद के अनुरोध के अनुसार विभाग में रिक्त पद के सापेक्ष पद्दोनन्त कार्मिको को योगदान करने हेतु आदेश निर्गत करने के निर्देश दिए जा चुके है साथ ही उनके द्वारा ग्राम्य विकास आयुक्त को शासन स्तर पर चल रही तैनाती की पत्रावली पर भी त्वरित गति से कार्यवाही हेतु प्रयास करने के निर्देश दिए गए है ,जैसे की शीघ्रातिशीघ्र तैनाती आदेश जारी क्या जा सके, प्रतिनिधिमंडल ने अपर मुख्य सचिव महोदया को उनके द्वारा की गई त्वरित कार्यवाह के दृष्टिगत आभार व्यक्त किया गया और सभा स्थगित कर दी गयी  तथा इसके साथ-साथ इस बैठक में ठाकुर प्रह्लाद सिंह और अरुण पाण्डे एंव अन्य लोग भी शामिल थे।