उत्तराखंड :- गरीब परिवारों के लिए निस्वार्थ भाव से कार्य कर रहे हैं उत्तराखंड के पूर्व राज्य मंत्री: सुशील राठी

3
202



उत्तराखंड; राज्य में जहां लोग अपने रोजगार और दो वक्त की रोटी के लिए दूसरों का आश्रय देख रहे हैं उसी राह में उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व राज्य मंत्री सुशील राठी द्वारा रात दिन गरीब और असहाय लोगों की भोजन मेडिकल दवाइयों हॉस्पिटल सहित कई जरूरत चीजों के लिए सदैव निस्वार्थ भाव से कार्य कर रहे हैं जिसके उदाहरण आज उत्तराखंड राज्य के देहरादून शहर में देखने को मिला, अपने पिता की बीमारी के कारण सब्जी लगाने का काम करने पर मजबूर सिटी बोर्ड स्कूल के कक्षा 4 में पढ़ने वाले बालक लक्की, जो सब्जी बेचकर अपने घर का गुजारा कर रहा था जिसके बारे में समाचार पत्र में प्रमुखता से खबर प्रकाशित की जिसको पढ़ कर उत्तराखंड सरकार में पूर्व राज्य मंत्री एवं उत्तराखंड प्रदेश किसान कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष सुशील राठी लक्की के परिवार के लिए मदद के लिए आगे आए और उनसे यह खबर पढ़ने के बाद अपने घर में रहा नहीं गया और चकराता रोड पर लक्की की उस सब्जी की दुकान पर जा पहुंचे जहां पर लकी अपने घर में पिता की बीमारी होने के कारण एवं माता को काम न मिलने से परेशान होने की वजह से सब्जी बेच रहा था, सुशील राठी ने सर्वप्रथम लक्की और वहां सब्जी की दुकान पर मौजूद लक्की की माता से उसके परिवार के विषय में हाल समाचार जाना और उसके बाद उसके तत्पश्चात ही बालक लक्की की दुकान पर रखी सारी सब्जी खरीद ली किसको बेचने के लिए उसको शायद काफी इंतजार करना पड़ता और उसके बाद लक्की और लक्की की मां के आग्रह पर लक्की के बीमार पिता की दवाई लाने के लिए भी मदद की।

3 COMMENTS

  1. Today, I went to the beachfront with my kids. I found a sea shell and gave it to my 4 year old daughter and said “You can hear the ocean if you put this to your ear.” She put the shell to her ear and screamed. There was a hermit crab inside and it pinched her ear. She never wants to go back! LoL I know this is completely off topic but I had to tell someone!

  2. of course like your web site however you have to check the spelling on several of your posts. Many of them are rife with spelling issues and I to find it very bothersome to inform the reality however I’ll surely come back again.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here