उत्तराखंड

0
210
उत्तराखंड की राज्यधानी देहरादून के अंदर गरीबों के नाम पर धोखाधड़ी की होड़ मची हुई है  :-

राज्यधानी देहरादून के चकराता रोड बिंदाल पूल के पास नीचे झुग्गी झोपड़ी में रहनेवाले गरीब ,असहाय ,लाचार मजदूरों के नाम पर लूटखसोट एंव धोखाधड़ी की होड़ मची हुई है । गरीब मजदूरों का आरोप है कि हम लम्बे समय से वैश्विक कोरोना महामारी के चलते काम धंधे बन्द हो गए है जब तक हमारे पास रुपये/पैसे थे तब तक हम दूकान से राशन खरीद- खरीद कर अपना जीवन गुजर बसर करते थे परंतु जैसे भोजन वस्तु खत्म हो गए हम लाचार बन गए इस लाचारी को देखते हुए हम पुलिस -प्रशासन के पास थाने में गए परन्तु थाने वालो ने हमारी आवाज सुन ली और अपने रजिस्टर  में  नाम दर्ज कर लिया । लेकिन भरण – पोषण करने के लिए राशन नही दिये । जब- जब वहा पर गए हम तब- तब थाने के पुलिस वालो ने हमे गालिया देकर भगा देते थे । राशन नही देते थे जब यू .एन. ए . न्यूज के पत्रकार वहां गए तो इस बात का खुलासा हुआ कि इनके नाम पर कहि और को टारगेट किया जा रहा है इनके नाम पर किसी औरो को राशन वितरण किया जा रहा है और इनके साथ धोखाधड़ी की जा रही है भूख से ग्रसित मजदूर असहाय लाचार दोहाई दे, देकर गुहार लगा रहे परन्तु इनका कोई सुनने वाला नही है। एक कहावत है ” अंधेर नगरी चौपट राजा ” राजा जनता के नाम पर बजट पास करके खुश है गरीब इस बजट को सुनकर खुश है इन सभी को पता नही है कि जनता भूखे मर रही है या भोजन खा कर जी रही है ।