उपायुक्त अनीश यादव ने कोविड बार रुम एवं कंट्रोल रुम का किया निरीक्षण

0
17

सिरसा, 08 जनवरी।(सतीश बांसल )उपायुक्त अनीश यादव ने कहा कि कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग महत्वपूर्ण प्रक्रिया है, रोगी जिस-जिस व्यक्ति के संपर्क में आया है उनके स्वास्थ्य की जानकारी लें और उन्हें होम आइसोलेशन में रहने का सुझाव दें तथा पूरा रिकॉर्ड को मेंटेन रखें। इसके अलावा रोगी से मेडिकल किट की उपलब्धता की भी जानकारी लें तथा मेडिकल किट उपलब्ध न होने पर रोगी को तुरंत मेडिकल किट उपलब्ध करवाई जाए।
उपायुक्त शनिवार को कोरोना की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर स्थानीय राजकीय बहुतकनीकी संस्थान (महिला) में बनाए गए कोविड बार रुम एवं कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया और कार्य प्रणाली की विस्तार से जानकारी ली। उपायुक्त ने कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग प्रक्रिया, होम आइसोलेशन रोगियों स्वास्थ्य की जानकारी लेने संबंधी प्रक्रिया, मेडिकल किट की उपलब्धता आदि की विस्तारपूर्वक जानकारी ली। कोविड होम कॉलिंग सेंटर में रोगियों की ऑनलाइन रिपोर्टिंग, वैक्सीनेशन रिकॉर्ड, टेस्टिंग रिकार्ड का डाटा तैयार किया जाता है।
उपायुक्त ने कहा कि ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों से कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे रोगियों को फोन करके हर दूसरे दिन उनके स्वास्थ्य की जानकारी लें,
उल्लेखनीय है कि सीईओ जिला परिषद को बार रुम का नोडल अधिकारी बनाया गया है। कोविड संबंधी ट्रेनिंग कार्यों के लिए उप सिविल सर्जन डा. विपुल गुप्ता, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए डीईईओ आत्म प्रकाश, होम आइसोलेशन यूनिट के लिए डीपीसी बुटा राम को नोडल अधिकारी बनाया गया है। सिविल सर्जन सिरसा बार रुम के सभी इंतजामों के लिए सहयोग करेंगे।
इस अवसर पर उनके साथ सीईओ जिला परिषद सुशील कुमार, एसडीएम जयवीर यादव, सिविल सर्जन डा. मुनीष बंसल, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी आत्म प्रकाश, उप सिविल सर्जन डा. रोहताश, डीपीसी बुटा राम, डा. दीपक मौजूद थे।