उपायुक्त ने खेतों जाकर की ई-गिरदावरी की पड़ताल की, अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

0
42

हरियाणा; सिरसा, 6 सितंबर।
उपायुक्त अनीश यादव ने सोमवार को स्वयं खेतों में जाकर मेरी फसल-मेरा ब्योरा रजिस्ट्रेशन की ई-गिरदावरी की जांच की। उन्होंने खसरा नंबरों पर किसानों द्वारा उगाई गई फसल तथा पटवारी द्वारा पोर्टल पर अपलोड किए गए डाटा का मिलान करवाया और अगर किसी खसरा नंबर पर डाटा अलग मिला तो उसे मौके पर ही दुरूस्त करवाया।
उपायुक्त ने मेरी फसल-मेरा ब्यौरा के तहत की गई गिरदावरी का निरीक्षण करने के लिए जिला के जिला के माधोसिधाना, मल्लेकां, मैहनाखेड़ा, ऐलनाबाद, जीवन नगर, ओटू गांवों का दौरा किया ,इस दौरान संबंधित एसडीएम सिरसा जयवीर यादव, एसडीएम ऐलनाबाद दिलबाग सिंह, तहसीलदार गुरुदेव सिंह, सदर कानूनगो रेशम सिंह, एनएसके राज कुमार, सरपंच पवन बेनीवाल, नंबरदार रामलाल, सरपंच मल्लेकां रमनदीप, पटवारी राम कुमार, कानूनगो धर्मपाल, देवीलाल, राजाराम, नंबरदार लालचंद, राज, जगजीत आदि मौजूद रहे।
उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसानों द्वारा उगाई गई फसल का सही डाटा अपलोड किया जाए, ताकि फसल बेचने के दौरान किसानों को किसी प्रकार की असुविधा न हो। उपायुक्त ने किसानों से कहा कि मेरी फसल-मेरा ब्योरा पर रजिस्ट्रेशन अवश्य करवाएं ताकि मार्केट कमेटी द्वारा सभी किसानों को फसल बेचने के लिए एसएमएस भेजे जा सके और किसानों को मंडी में फसल बेचने में किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े। उन्होंने कहा कि गांवों के नंबरदार व मौजिज व्यक्ति मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर अपनी फसलों का रजिस्ट्रेशन के लिए दूसरों को प्रोत्साहित करें। इसके अलावा उन्होंने किसानों से आह्वïान किया कि वे फसल विविधीकरण को अपनाएं और कम पानी की फसलों की बुआई करें। धान की अपेक्षा दूसरी फसलों को अपनाएं क्योंकि गिरता हुआ भू-जल स्तर चिंता का विषय है, इसलिए सरकार की जल बचाव मुहिम में अपना योगदान दें।