कटक से 70 लाख रुपए की नकली दवाएं बरामद: Medilloyd Medicament Pvt Ltd का लाइसेंस रद

0
54

कटक, कटक से 70 लाख रुपए की नकली दवाएं बरामद घटना में क्राइमब्रांच ने जांच को आगे बढ़ाते हुए इस कारोबार में लिप्त कंपनी के मुख्य शिव प्रसन्न जेना और उनकी पत्‍नी के साथ-साथ कुल चार को पहले ही गिरफ्तार किया है। अब इसी घटना में राज्य ड्रग्स कंट्रोलर के कार्यालय की ओर से मेडिल्ल्योड मेडिकेमेंट प्राइवेट लिमिटेड संस्थान के लाइसेंस को रद कर दिया गया है।
इसके साथ-साथ अगले निर्देशनामा आने तक उस संस्थान के साथ किसी भी तरह के व्यापारिक संबंध ना रखने के लिए विभाग की ओर से राज्य दवाई व्यापारी महासंघ को खत लिखकर सूचित कर दिया गया है। इसके चलते महासंघ की ओर से राज्य के तमाम जिलों में मौजूद दवाई व्यापारी संघ को इस संबंध में खत लिखकर अवगत किया गया है। यह जानकारी राज्य दवाई व्यापारी महासंघ के महासचिव प्रशांत कुमार महापात्र ने गण माध्यम को दी है।
ठीक उसी तरह मेडिल्योड मेडिकामेंट प्राइवेट लिमिटेड संस्थान यां उसके मालिक शिव प्रसन्न जेना के साथ कारोबार करने वाले दो सुपर स्टॉकिस्ट कटक सीडीए में मौजूद स्वागत एजेंसी और भुवनेश्वर में मौजूद साईं एसोसिएट को भी ड्रग्स कंट्रोल विभाग की ओर से कारण बताओ नोटिस जारी किए जाने के बारे में विशेष सूत्रों से जानकारी मिली है।
विदित है की, पिछले 11 जून को कोरोना की नकली दवाई कारोबार के बारे में खबर पाकर राज्य ड्रग्स कंट्रोलर टीम की ओर से कटक कनिका चौक में मौजूद मेडील्योड मेडिकेमेंट प्राइवेट लिमिटेड संस्थान के ऊपर छापेमारी की गई थी और वहां से ड्रग्स कंट्रोलर विभाग ने करीब 70 लाख रुपए की दवाई को भी बरामद किया था। इसके बाद घटने की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने इसकी क्राइम ब्रांच एसआईटी जांच के लिए निर्देश जारी किया था।