कथा को सुनने से इंसान होता है कष्ट मुक्तः स्वामी कृष्णानंद

1
121

सिरसा। वार्ड नम्बर 3 स्थित बाटा कॉलोनी में राधा माधव मंदिर के पास श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन किया गया है। दूसरे दिन बतौर मुख्यातिथि भाजपा जिला सह कोषाध्यक्ष एवं समाजसेवी बलवंत शैली पहुंचे। कथावाचक श्रद्धेय स्वामी कृष्णानंद जी महाराज ने कहा कि श्रीमद्भागवत महापुराण सभी ग्रंथों का सार है। भागवत पुराण को मुक्ति ग्रंथ कहा गया है। इसकी कथा सुनना और सुनाना दोनों ही मुक्तिदायिनी हैं और आत्मा को मुक्ति का मार्ग दिखाती है। यदि कोई व्यक्ति किसी तीसरे व्यक्ति को कथा सुनने के लिए प्रेरित करता है तो पहले व्यक्ति को इस बात का भी पूरा फल मिलता है। कथा सुनने का फल सभी पुण्यों, तपस्या व सभी तीर्थों की यात्रा के फल से भी कहीं बढ़कर है। भागवत कथा का आयोजन करने तथा सुनने के अनेक लाभ हैं। इसे आयोजित कराने तथा सुनने वाले व्यक्तियों-परिवारों के पितरों को शांति और मुक्ति मिलती है। बलवंत शैली ने अधिक से अधिक श्रद्धालुओं से भागवत कथा में पहुंचने का आह्वान किया है। इस मौके पर बलवंत सिंह शैली की धर्मपत्नी रमनदीप सिंहमार, नमनदीप, बलविंद्र, हरजीत भी मौजूद थे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here