करोना के नाम की लूट मची है लूट सको तो लूट।

0
13

जहा एक तरफ केंद्र कर्णप्रिय ( कानो को सुनने में आच्छा लगे ) बिस लाख करोड़ का पैकेज दिया है ठीक उनके नक्से कदम पर चल रही केजरीवाल सरकार भी मजदूरों के लिए लम्बी लम्बी छोड़ रहे है। इन सब के चक्कर में पीस रही है आम जनता , वो मजदुर जिनको खाने रहने के नाम पर आश्वासन के सिवा कुछ भी नहीं मिल रहा है। वही दिल्ली में ठेकेदार एक एक मजदुर से पंद्रह हज़ार करके वसूल किया है उनको बस से उनके गंतब्य तक छोड़ने के लिए और वो भी पैसे लेकर गायब है। प्रशासन उलटे मजदूरों पर ही डंडे बरसा रही है। गजब की लूट है।