कांग्रेस की सियासी उठापटक के बाद अब सीएम अशोक गहलोत भी डेमेज कंट्रोल में लग गए

0
83

जयपुर- कांग्रेस की सियासी उठापटक के बाद अब सीएम अशोक गहलोत भी डेमेज कंट्रोल में लग गए हैं। सचिन पायलट की वापसी और प्रदेश में चले सियासी संकट को लेकर उन्होंने गुरुवार को एक के बाद एक ट्वीट किए हैं। अपने इस ट्वीट में सीएम गहलोत ने विधायकों को संदेश देते हुए लिखा है कि पार्टी का संघर्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में लोकतंत्र को बचाने का है। पिछले एक महीने में पार्टी में जो भी गलतफहमी हुई है, हमें लोकतंत्र के हित में देश और राज्य को ध्यान में रखते हुए इसे क्षमा करने और भूलने की जरूरत है। जानकारों का कहना है कि कांग्रेस की ओर से आज शाम तक विधायक दल की बैठक हो सकती है। इस विधायक दल की बैठक में दोनों दलों के बीच आई खटास को दूर करने के लिए आलाकमान की ओर से वरिष्ठ नेता के.सी. वेणुगोपाल को भेजा गया है। बताया जा रहा है कि वेणुगोपाल आज सचिन पायलट और अशोक गहलोत की मुलाकात करवाकर विधायक दल की बैठक की शुरुआत करवाएंगे। विधायक दल की बैठक की सूचना मुख्य सचेतक महेश जोशी भी दे चुके हैं। आपको बता दें कि सचिन पायलट खेमे के लौटने के बाद से ही गहलोत खेमा अभी भी नाराजगी जता रहा हैं। गहलोत समर्थक विधायकों ने तो यहां तक यह बात कह दी है कि सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों को तीन साल तक पार्टी और सरकार दोनों में ही कोई जगह नहीं दी जाएं, इसके लिए वो आलाकमान से मुलाकात करेंगे। जानकारों का कहना है कि दोनों की खेमों के बीच फिलहाल कड़वाहट इतनी जल्दी दूर नहीं होगी।(UNA)