KHANAN OR OVERLOAD NAHI HUI KARYAVAHI
 कानपुर देहात के खरका गाँव में शासन और एनजीटी के मानकों की धज्जियां उड़ाकर यमुना नदी पर परमीशन के नाम पर पोकलैंड और जेसीबी लगाकर अवैध बालू खनन और ओवरलोड बालू लादकर ट्रकों को निकालने का खेल जोरों पर चल रहा है मीडिया द्वारा अवैध खनन और ओवरलोड के इस खेल को प्रमुखता से दिखाये जाने के बाद केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने खबर का संज्ञान लिया था और जिले के अधिकारियो को 2 दिन के अंदर मौके पर जाकर अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर कार्यवाही करने के निर्देश दिये थे लेकिन आज 15 दिन बीत जाने के बाद भी कोई अधिकारी मौके पर नही पहुंचा और न ही अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर कोई कार्यवाही की गयी । बल्कि जिले के अधिकारी आँख बंद कर इस अवैध खनन माफियाओ को संरक्षण देने में लगे हुए है जिससे खनन माफिया निडर होकर अवैध खनन के साथ ओवरलोड ट्रकों को खुलेआम फल फूल रहा है ओवरलोड ट्रकों को आम रास्तों और हाईवे से निकाले जा रहे है जिससे लोगो को मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है कथरी से खरका जाने वाले रास्ते की सड़क और पुलिया को इन ओवरलोड ट्रकों ने तोड़ दी जिससे आये दिन सड़क हादसे हो रहे है कई लोग घायल भी हो चुके है इस अवैध खनन और ओवरलोडिंग के खेल से कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है पैसे की धमक और राजनीति में ऊँची पहुँच के चलते ये खनन माफिया बंदूक धारियों को लगाकर ग्रामीणों को चुप कराकर अवैध खनन में लगे हुए है लेकिन ये सब जानकर भी जिले के अधिकारी अंजान बने बैठे है खरका बालू घाट में हो रहे अवैध खनन पर खनिज विभाग और ओवरलोडिंग पर आरटीओ विभाग मौन धारण किये बैठा है
अब देखना है कि इस अवैध खनन और ओवरलोडिंग के खेल पर सरकार की नजरे कब इनायत होती है और जिले के प्रशासनिक अधिकारी कब कार्यवाही करते है ,,,,,,,,,,,, वही अवैध खनन और ओवरलोडिंग की खबर दिखाये जाने के बाद जिले के डीएम राकेश कुमार सिंह ने मीडिया द्वारा संज्ञान में लेकर कार्यवाही करने की बात कही थी लेकिन अब तक कार्यवाही नही की गयी आप खुद ही सुनिये क्या कहा था डीएम ने
वही कानपुर देहात पहुंची केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने खबर का संज्ञान ले माना कि खरका बालू घाट यमुना नदी पर खनन माफियाओं द्वारा अवैध खनन किया जा रहा है खनन माफियाओं पर कार्यवाही करने के लिये जिले के अधिकारियो को 2 दिन के अंदर अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर कार्यवाही करने के निर्देश दिये थे  लेकिन आज 15 दिन बीत जाने के बाद भी जिले के अधिकारियो ने केंद्रीय मंत्री के आदेशों को ठेंगा दिखा दिया और कोई कार्यवाही नही की
अब सुनिये क्या कहा था केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने