केडिया ने प्रभावित फसलों की गिरदावरी करवा कर तुरंत प्रभाव से मुआवजा देने की मांग की

0
10

हरियाणा; सिरसा। पिछले दो तीन दिन से जिला भर में हो रही बरसात से नरमा कपास ग्वार की फसल को भारी नुक़सान हुआ है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव नवीन केडिया ने पीड़ित किसानों से गहरी सहानुभूति जताते हुए हरियाणा सरकार से प्रभावित फसलों की गिरदावरी करवा कर तुरंत प्रभाव से मुआवजा देने की मांग की है।
उन्होंने कहा कि सिरसा के नाथूसरी-चोपटा, डबवाली व औढां खंड में सबसे ज्यादा नुक्सान होने का अनुमान है। इन क्षेत्रों के एक सौ से अधिक गांवों में नरमा कपास व ग्वार की खड़ी फसल बर्बाद हो गई है जो कि लगभग तैयार हो चुकी थी। कई गांवों में फसल 50% से 75% तक पूरी तरह नष्ट हो गई है। केडिया ने कहा कि पिछले कुछ सालों में खेती के लागत मूल्य में कई गुना बढ़ौतरी हुई है। बीज खाद कीटनाशक दवाओं से लेकर कृषि उपयोगी उपकरणों, डीजल आदि के दाम सबसे ऊंचे स्तर पर आ गए हैं। इस के बावजूद फसलों के समर्थन मूल्य में वृद्धि ऊंट के मुंह में जीरा के समान ही हुई है। उन्होंने कहा कि आर्थिक संकट से जूझ रहे किसानों को हालिया बरसात से दोहरी मार पड़ी है। अधिकतर किसान बाजार से उधार उठा कर खेत में लगाते हैं। ऐसे किसानों की आंखों में अंधेरा छा गया है और उन्हें बाजार का कर्ज चुकाने से लेकर परिवार पालने के लिए कोई रास्ता नहीं सूझ रहा।
अपनी जमीन बचाने के लिए 9-10 माह से संघर्ष करते हुए भारी तनाव में जी रहे किसानों के लिए मौजूदा संकट नये मानसिक दबाव का कारण बन रहा है। ऐसे में सरकार को किसानों की पीठ पर हाथ रख कर हौसला देना चाहिए और जल्दी से जल्दी आर्थिक मदद देने की पहल करनी चाहिए।