कैमूर। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी डॉ. नवल किशोर चौधरी ने बुधवार को जिले के निजी विद्यालयों के संचालकों व बस मालिकों के साथ एक आवश्यक बैठक की। बैठक समाहरणालय के सभाकक्ष में हुई।

0
152

कैमूर। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी डॉ. नवल किशोर चौधरी ने बुधवार को जिले के निजी विद्यालयों के संचालकों व बस मालिकों के साथ एक आवश्यक बैठक की। बैठक समाहरणालय के सभाकक्ष में हुई।

बैठक में उपस्थित निजी विद्यालयों के संचालक, एचएम व वाहन मालिकों को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में आगामी 28 अक्टूबर को प्रथम चरण के लिए मतदान होगा। चुनाव कार्य संपन्न कराए जाने के लिए आप सभी लोग विद्यालयों के वाहन उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि जिन मालिकों द्वारा चुनाव कार्य संपन्न कराए जाने के लिए वाहनों को उपलब्ध नहीं कराया जाएगा उन्हें चिन्हित कर उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करते हुए बाहर का परमिट रद किया जाएगा।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने विद्यालयों के संचालक और बस मालिकों को आश्वस्त किया कि जिस तरह से जिला प्रशासन ने आपदा प्रबंधन से निपटने के लिए आप लोगों द्वारा वाहन उपलब्ध कराकर सहयोग किया था उसी तर्ज पर जिला प्रशासन चुनाव कार्य में लगाए जाने वाले वाहनों का भुगतान 28 अक्टूबर के बाद कराने का काम करेगा। जिलाधिकारी के आश्वासन पर विद्यालयों के संचालक व निजी वाहनों के स्वामियों द्वारा हर्ष व्यक्त करते हुए कहा गया कि जिला प्रशासन को वाहन की उपलब्धता सुनिश्चित कराने में किसी प्रकार की कोई कोताही नहीं बरती जाएगी। बैठक में शिक्षा विभाग के रोहित कुमार चौरसिया, ज्योति प्रकाश शर्मा, सत्येंद्र कुमार के अलावा निजी विद्यालयों के धर्मेंद्र कुमार, वीरेंद्र सिंह, महेंद्र प्रताप, जिला बस एसोसिएशन के महासचिव जय नारायण सिहं आदि उपस्थित थे।