कैमूर के अखलासपुर निवासी अखिलेश सिंह पटेल ने बसपा के लिए कसा कमर

0
78

(कैमूर ब्यूरो चीफ) राम नारायण सिंह कैमूर जिला मुख्यालय से सटे अखलासपुर निवासी अखिलेश कुमार सिंह जिनका योग्यता b.a. एलएलबी है इनकी राजनीतिक सोच बहुजन समाज पार्टी के साथ है एक सवाल के जवाब में युवा समाजसेवी सह बसपा नेता अखिलेश कुमार सिंह पटेल कहते हैं कि मैं बसपा का राजनीती करना पसंद करता हूं
हमारे बड़े पिता स्वर्गीय जवाहर सिंह पटेल 1984 में भभुआ विधानसभा से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़े थे बहुत कम ओटो से पराजय का मुंह देखना पड़ा मैं पिता के अधूरे सपने एवं मान्यवर कांशी राम,एव बहन कुमारी मायावती के सपने को साकार करने के लिए मैं कमरकस कर पार्टी कार्यों में तेजी लाने हेतु जनसंपर्क अभियान विधानसभा के गांव में तेज कर दिया है जिस क्रम में भभुआ प्रखंड के रामपुर ,सोनहन, महुआरी ,महुअत, सीओ, कुडासन पंचायत सहित
विधानसभा के गांव में पार्टी के कार्यों को मैं स्वावलंबी बनकर जनसंपर्क अभियान बूथ स्तर से लेकर मेंबर बनाने का कार्यों तक में अपना बहुमूल्य समय देते हैं
भभुआ विधानसभा के चप्पा चप्पा गांव के अमीर एवं गरीबों से मिलकर बहन कुमारी मायावती ,एवं कांशी राम तथा अपने बड़े पिता स्वर्गीय जवाहर सिंह पटेल के सपनों को पूरा करने के लिए पार्टी नीतियों को जमीनी स्तर पर आम लोगों को बताकर उनके विचारों को प्रभावित करता हूं
बता दें कि जवाहर सिंह पटेल उस व्यक्ति के नाम है जो जिला में चर्चित समाजसेवी के रूप में रह चुके हैं जवाहर सिंह पटेल नगर परिषद अध्यक्ष पद पर रह कर मान्यवर कांशी राम जी के विचारों से जनमानस से जुड़ा करते थे उनकी खून पसीना का एक एक कतरा गरीबों के साथ जोड़कर रहा करता था
इनके कर्मठता एवं लगन तथा विचारों से प्रभावित होकर मान्यवर कांशी राम जी भभुआ विधानसभा का टिकट दिया था इनकी मौत के बाद राजनीतिक विरासत की जिम्मेवारी शुन्य चल रही थी परंतु अब इनका पुत्र अखिलेश सिंह पटेल पार्टी के कार्यों को आगे बढ़ाने के लिए तन मन धन से जिम्मेवारी अपने कंधों पर उठा लिया है जो अपने समाज के अधिक से अधिक लोगों को बसपा के विचारधारा में जोड़ने का काम करते हैं और अपना बहुमूल्य समय अमीर एवं गरीबों के जन समस्या के कामों में लगाते हैं


कैमूर बसपा नेता अखिलेश सिंह पटेल अपने साथियों के साथ पार्टी कार्यों को आगे बढ़ाने के संबंध में विचार विमर्श करते