कैमूर के चैनपुर मदुरना पंचायत के ग्रामीणों ने संत विचारधारा को देख बनाया मुखिया। गांवो में दिखने लगा है विकास की किरणें‌ मुख्यमंत्री सात निश्चय योजनाओं का होता है ईमानदारी से पालन

0
16
(कैमूर ब्यूरो चीफ) राम नारायण सिंह
 कैमूर जिला के चैनपुर प्रखंड अंतर्गत मदुरना पंचायत में ग्रामीणों ने संत विचारधारा को देख प्रभु नारायण सिंह को बनाया मुखिया । मुखिया सरकार की सात निश्चय योजनाओं के संचालित अन्य विकास योजनाओं को जमीनी स्तर पर उतारने का भरपूर प्रयास करने में जी जान लगा दिया है जिसके तहत पंचायत के गांव में विकास के कार्य दिखने लगा है ।पंचायत के मुखिया प्रभु नारायण सिंह का सामाजिक सोच एवं निस्वार्थ भाव से ने मुखिया पद पर प्रथम चुनाव जीतने के बाद दोबारा दूसरा चुनाव में भी परचम लहराया लिया है ।बता दें कि मुखिया की सामाजिक सोच एवं सभी के सुख दुख में शामिल रहना, सरकार की योजनाओं को इमानदारी से जनता के बीच लागू करना, युक्त कार्यों ने मुखिया को प्रथम चुनाव 2001 में 350 वोटों से विजई बनाया था। जबकि दूसरा चुनाव 2016 में 1043 मतों से जनता ने अधिक वोट देकर विजयई घोषित कराया था ।मुखिया प्रभु नारायण सिंह को वैसे आज भी अच्छी सोच के साथ समाज की सेवा में लगे रहते हैं । एक सवाल के जवाब में मुखिया ने कहा कि मेरा राजनीतिक सोच है की  किसी दिल से टिकट मिलता है। तो विधानसभा का मंजिल को तय करेंगे। जिसके बनाए रखने के लिए आज भी मैं जनता को दिल जीतने के लिए दिन रात दौरा कर लगे रहते हैं ।मुखिया ने दूसरा सवाल के जवाब में कहा कि मैं अपनी जीविका का साधन सरकार से नहीं बल्कि अपने परिश्रम से करता हूं उन्होंने कहा कि मेरा आमदनी का स्रोत मां ईट उद्योग जिक जैक भट्ठा से आता है ।युक्त भट्ठा पर काम करने वाले लोगों को जीविका के क्षेत्र में मैं रोजगार  लगभग 200 लोगों को  सालों भर‌ देते रहते ‌हैं। मुखिया आज भी पंचायत के विकास के कार्यों में सेवा भाव से कार्य करते दिखाई देते  हैं। जिससे इनकी लोकप्रियता पंचायत के अलावे प्रखंड एवं जिला में दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहा है