कैमूर

0
1
बिहार में कैमूर जिला के शिक्षण संस्थान मानव भारती हेरिटेज विद्यालय चांद छात्रों को रिजल्ट लाने में प्रथम  स्थान पर
कैमूर जिला के चांद प्रखंड अंतर्गत अवस्थित मानव भारती हेरिटेज विद्यालय बच्चों को पठन-पाठन के बदौलत सत्य प्रतिशत रिजल्ट लाने में नंबर वन स्थान प्राप्त कर चुका है यह विद्यालय कैमूर में अवस्थित है जो शिक्षा के क्षेत्र में अग्रदूत बना हुआ है
यहां कक्षा नर्सरी से बारहवीं तक की पठन-पाठन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड नई दिल्ली से मान्यता प्राप्त है यहां वाणीजय कला एवं विज्ञान संकाय की पढ़ाई होती है कुल शिक्षकों की संख्या 42 है एवं छात्र छात्राओं की संख्या 1090 है इस विद्यालय में कैमूर जिला के सभी प्रखंडों के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती इलाके के छात्र छात्रा पठन-पाठन करते हैं एवं  कुछ छात्र छात्रा हॉस्टल में रहकर शिक्षा ग्रहण करते हैं जिसका देखरेख विद्यालय के प्रचार विकास कुमार पांडे एवं शिक्षा व्यवस्था को विद्यालय के डायरेक्टर कैप्टन विश्व कांत पांडे के निर्देशन में संचालन होता है इस विद्यालय की स्थापना महान शिक्षाविद एवं स्वतंत्रता सेनानी डॉ दुर्गाप्रसाद पांडे की परिकल्पना पर किया गया
मानव भारती नाम गुरुदेव रविंद्रनाथ  टाइगैर द्वारा दिया गया , सन 1941 से ही शिक्षा के क्षेत्र में मंसूरी, देहरादून ,दिल्ली, इत्यादि शहरों से होते हुए सन 2007 में डॉ पांडे की जन्मभूमि पर चांद मैं स्थापित हुआ जहां पर बड़े-बड़े भव्य भवनों एवं अन्य सुविधाओं से भी सुशोभित किया गया है
यह संस्थान कैमूर के शिक्षा के क्षेत्र में अग्रसारित करने का प्रयास में लगा हुआ है यहा बच्चों को पठन-पाठन के लिए आधुनिक शिक्षण कौशल का प्रबंध किया गया है
विद्यालय में लाइब्रेरी ,कंप्यूटर ,विज्ञान,का प्रयोगशाला रसायन शास्त्र का प्रयोगशाला जीव विज्ञान का प्रयोगशाला योग हाल संगीत कक्षा के साथ-साथ विशाल खेल का मैदान ,छात्रावास आदि सुविधाओं से लैस यह विद्यालय कैमूर में सत प्रतिशत परीक्षा परिणाम देने वाला मात्र एक शिक्षण संस्थान है जहां पर आमिर से लेकर गरीब के बेटे शिक्षा ग्रहण करते हैं जिसको देखते हुए जिला के वरिष्ठ समाजसेवी बिरजू सिंह पटेल भोला नाथ सिंह यादव जिला पार्षद सदस्य आदि लोगों ने स्वतंत्रता सेनानी द्वारा की गई अस्थापना से कैमूर में पठन-पाठन का बढ़ावा मिला है इसके लिए स्वतंत्रता सेनानी कोबधाई दिया है