बड़े पिता के अधूरे सपने को पूरा करने के
         लिए समाज में खड़े रहते  महेंद्र पाल
 कैमूर (यू एन ए ब्यूरो चीफ कैमूर) कैमूर जिला के चैनपुर प्रखंड अंतर्गत  कर्जी गांव निवासी महेंद्र पाल की सोच दबे कुचले शोषित पीड़ितो का हक की  आवाज बनकर दूसरों के दुख दर्द पीड़ा में काम आता हैं महेंद्र पाल की सामाजिक सोच का परिणाम जनता ने इन्हें अपना प्रतिनिधि भी बनाने का प्रयास करता है जिस क्रम में जनता के आह्वान पर सन 2011 में जिला परिषद का चुनाव लड़ा परंतु बहुत कम मतो के अंतर से हारने के बाद भी जनता की सेवा में लगे रहते हैं महेंद्र पाल  कि जीवन  समाज के कामों में अपने को न्योछावर कर चुके हैं
 अपना किस्मत नगर वार्ड भभुआ चुनाव में भी अजमा चुके हैं एवं तीसरा चुनाव मुखिया  कर्जा पंचायत से लड़े जो
पूर्व में इनके बड़े पिता राजनाथ पाल पंचायत के मुखिया पद पर रह चुके हैं उनके अधूरे सपने को पूरा करने के लिए आज भी समाज के साथ महेंद्र पाल खड़े रहते हैं जनता के कामों के लिए ही इनकी पहचान क्षेत्रों में बन चुका है वैसे तो इनकी  जनसंख्या नाही के बराबर है फिर भी चुनावों में यह अपना दमदार उपस्थिति दर्ज करते हैं