कैमूर एसपी ने अपराधियों पर कसा शिकंजा
           कई अपराधी भेजे गए जेल
(कैमूर यू एन ए ब्यूरो चीफ) राम नारायण सिंह आरक्षी अधीक्षक कैमूर दिलनवाज अहमद  के प्रयासों ने कैमूर में  रंग दिखाना प्रारंभ कर दिया है पिछले दिनों 21 अगस्त को भभुआ थाना क्षेत्र के खनाव गांव में शिक्षक शशि शेखर पांडे की हत्या में शामिल अभियुक्तों की गिरफ्तारी एवं पिछले 4 अगस्त को दुर्गावती थाना क्षेत्र में एनएच कर्मनाशा के पास चालक व खलासी का गला काटकर करोड़ों को सामान लूटने वाले अपराधी को गिरफ्तार तथा पुलिस ने कंटेनर के समान बरामद कर अपराधियों को भी गिरफ्तार करने में भारी सफलता पाई है अधीक्षक द्वारा वैज्ञानिक अनुसंधान में की गई गिरफ्तारी से अपराधियों को  एवं अपराध के जगत में न्यू रखने वालों की हिम्मत टुट गयी है बता दें पिछले दिनों कैमूर के खनाव गांव में शिक्षक शशि शेखर को निर्मम हत्या उन्हीं के दोस्तों द्वारा गोली मारकर कर दी गई थी और उस घटना में दूसरे को फसाने की साजिश भी रची जा रही थी
पुलिस ने बारीकी से घटनास्थल की जांच कर हत्या में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है वही ट्रक लुटेरा कांड में शामिल अपराधीओ को पुलिस  भभुआ कोट एवं अनुमंडल कार्यालय के समीप से गिरफ्तार कर घटना में शामिल लोगों को  पुलिस ने जेल भेज दिया मालूम हो कि ट्रक लुटेरों ने बहुत खिलौना तरीका से ड्राइवर एवं खलासी की मौत किया था जिसमें खलासी तो बच गया लेकिन ड्राइवर की मौत घटनास्थल पर हो गई थी यह घटना 4 अगस्त को दुर्गावती थाना क्षेत्र के एनएच दो पर कर्मनाशा के पास चालक का गला कटा हुआ बरामद हुआ था
 मामला  करोड़ का समान कंटेनर को लूटने की है  कैमूर के जीटी रोड से चांद नाहर वाले रास्ते में लगभग 3 किलोमीटर आगे सुनसान जगह पर अपराधी धीरू दादा ने अपने साथियों के साथ ड्राइवर खलासी को गला काट दिया था दोनों को मारा समझदार लुटेरा वापस कंटेनर के पास लौट आए लेकिन खलासी  अधमारा था जो किसी तरह भागकर एक लाइन होटल में पहुंचा और लाइन होटल के कर्मियों द्वारा पुलिस को सूचना दिया गया जिसके बाद खलासी का इलाज मोहनिया और बनारस में हुई खलासी बच भी गया राम