कोटा

0
164

अस्पताल में तीन दिन से पत्थर फेंक रहा कोई शरारती

चौमहल। सामुदायिक चिकित्सालय चौमहला में तीन दिन से देर रात्रि 10 बजे बाद से सुबह 5 बजे तक किसी अज्ञात शरारती द्वारा पत्थर फेंके जा रहे हैं। इसके चलते डॉक्टर, कर्मचारी और रोगियों के परिजनों में दहशत का माहौल हो गया है। वहीं यह घटना बाजार में भी चर्चा का विषय है।

दरअसल अस्पताल में पहली बार पत्थर आये। अस्पताल कर्मचारियों ने गंगधार पुलिस को सूचना दी। पुलिस की मौजूदगी में भी पत्थर आए। पत्थरों के आने से डॉक्टर दीपक बैरवा व चौकीदार शिवलाल घायल हो गए। पत्थर कहां से आ रहे यह पता नहीं लग पाया है। पुलिस, सीएचसी के कर्मचारी और मरीजों के परिजनों ने समूचे अस्पताल में खोजबीन की, परन्तु उन्हें कोई नहीं मिला। पुलिस की मौजूदगी में भी पत्थर आए। कमरा नम्बर 10 जहां दो चिकित्सक, कम्पाउंडर, दो चौकीदार सहित अन्य कर्मचारी थे, वहां भी पत्थर आए। साथ चिकित्सक दीपक बैरवा के रूम का बाहर से गेट लगा दिया, फिर भी एक पत्थर  आकर गिरा।

बारां जिले में 8 लाख 88 हजार 651 मतदाता करेंगे मतदान

-निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव कराने मतदान दल रवाना

बारां। लोकसभा आम चुनाव के तहत जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों के कुल 1040 मतदान केन्द्रों पर मतदान होगा। जिले में कुल 8 लाख 88 हजार 651 मतदाता मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। मतदान की सभी तैयारियों को पूर्ण कर जिला मुख्यालय से रविवार को मतदान दलों को अंतिम प्रशिक्षण के बाद गन्तव्य स्थलों के लिए रवानगी दे दी गई।

जिला निर्वाचन अधिकारी इन्द्रसिंह राव ने मिनी सचिवालय सभागार में  प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि जिले के अन्ता, किशनगंज, बारां-अटरू व छबड़ा विधानसभा क्षेत्रों में स्थापित मतदान केन्द्रों पर सोमवार को प्रात: 7 से शाम 6 बजे तक मतदान होगा। इसके लिए विधानसभा क्षेत्र अन्ता में 249, किशनगंज में 247, बारां-अटरू में 282 व विधानसभा क्षेत्र छबड़ा में 262 मतदान केन्द्र स्थापित किए हैं। सभी 101 संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर भी सुरक्षा के अतिरिक्त बंदोबस्त किए हैं। उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में किसी तरह की बाधा उत्पन्न करने वालों तत्वों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। मतदान के पश्चात कोटा रोड स्थित सीनियर सैकण्डरी स्कूल में मतदान सामग्री का संग्रहण किया जाएगा। यहां से मंगलवार सुबह 7 बजे कड़ी सुरक्षा के बीच ईवीएम व वीवीपेट मशीन सहित आवश्यक सामग्री झालावाड़ के राजकीय पॉलीटेक्निक महाविद्यालय भेजी जाएगी। उल्लेखनीय है कि मतगणना झालावाड़ में 23 मई को होगी।

जिला निर्वाचन अधिकारी की अपील

जिला निर्वाचन अधिकारी राव ने सोमवार को होने वाले चुनाव में जिले के सभी मतदाताओं से मतदान केन्द्र पर पहुंचकर भयमुक्त वातावरण में अपने मताधिकार का उपयोग कर जिले में शतप्रतिशत मतदान करने की अपील की है।

सजग व निष्पक्ष रहकर कराएं चुनाव

जिला निर्वाचन अधिकारी ने मतदान दलों के कार्मिकों को संबोधित करते हुए कहा कि मतदान दिवस पर सभी कार्मिक सजग और निष्पक्ष रहकर अपने कर्तव्य का निर्वहन करें। भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों की पूरी तरह पालना सुनिश्चित करें। मतदान से पूर्व पोलिंग एजेन्टों की मौजूदगी में मोक पोल किया जावे। उन्होंने कहा कि पीठासीन अधिकारी निर्धारित समय पर एसएमएस के माध्यम से सूचना का प्रेषण करें।

मतदाता पहचान पत्र के अलावा 11 दस्तावेज मान्य

जिला निर्वाचन अधिकारी राव ने कहा कि मतदान दिवस पर फोटो मतदान पर्ची का उपयोग केवल सुविधा के लिये किया जायेगा। यह पहचान पत्र के रूप में मान्य नहीं होगी। उन्होंने मतदाताओं से अनुरोध किया कि वे मतदान पर्ची के साथ अपना मतदाता पहचान पत्र अनिवार्य रूप से साथ लावें। यदि उनके पास मतदान पहचान पत्र नहीं हो तो चुनाव आयोग द्वारा अधिकृत 11 दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज साथ लाए। इनमें आधार कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, बैंक अथवा पोस्ट ऑफिस फोटो सहित पासबुक, ड्राईविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, पासपोर्ट, फोटो सहित पेंशन दस्तावेज, एनपीआर के अन्तर्गत आरजीआई द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अन्तर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, केन्द्र, राज्य सरकार, पब्लिक लिमिटेड कम्पनी अथवा पीएसयू द्वारा अपने कर्मचारी को जारी सेवा पहचान पत्र तथा एमपी, एमएल, अथवा एमएलसी को जारी अधिकारिक पहचान पत्र में से किसी एक दस्तावेज से अपनी पहचान सत्यापित की जा सकेगी।

चार-चार महिला व आदर्श मतदान केन्द्र 

बारां। लोकसभा चुनाव के तहत बारां जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों में चार महिला एवं चार आदर्श मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। महिला मतदान केन्द्रों पर मतदान से संबंधित सभी व्यवस्थाओं के लिए पीठासीन अधिकारी एवं अन्य कार्मिक महिलाएं होंगी।

जिला निर्वाचन अधिकारी व कलक्टर इन्द्रसिंह राव ने बताया कि महिला मतदान केन्द्र के रूप में अन्ता विधानसभा क्षेत्र में सेमीनार हॉल कृषि विज्ञान केन्द्र अन्ता, किशनगंज विधानसभा क्षेत्र में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय किशनगंज कमरा नंबर 1, विधानसभा क्षेत्र बारां-अटरू में राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय प्रताप चैक बारां कमरा नंबर 3,  विधानसभा क्षेत्र छबड़ा में राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय छबड़ा कमरां नंबर 1 स्थापित किया है। इसी तरह विधानसभा क्षेत्र अन्ता के मदरसा अंजुमन बारां रोड मांगरोल, किशनगंज में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भंवरगढ़ कमरा नंबर 4, बारां-अटरू में राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय स्टेशन रोड बारां कमरां नंबर 2, छबड़ा में श्री दानमल राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय छीपाबड़ौद नई इमारत कमरा नंबर 1 में आदर्श मतदान केन्द्र बनाए गए हैं।

शहरों में बिल्डिंग लाइन और यातायात व्यवस्था बिगडऩे पर वास्तुविदों ने चिंता जताई

कोटा । इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ आर्किटेक्ट्स के कोटा सबचेप्टर के पूर्व अध्यक्ष बृजेश मुक्तावत ने कहा कि संस्था द्वारा गत वर्षों में बूंदी की कलात्मक धरोहरों गढ़, चित्रशाला, बारहखम्बों की छतरी तथा कोटा अभेड़ा महल की बनावट को आर्किटेक्ट की बेहतर कृतियां बताई। शहरों में बिल्डिंग लाईन और यातायात व्यवस्था के बिगडऩे पर चिंता जताई। मुक्तावत ने कहा कि स्मार्ट शहरों की अवधारणा बिना आर्किटेक्ट्स के अधूरी है। स्मार्ट शहरों के लिए आईआईए को बहुत काम करना है। इस मौके पर जयपुर से आए मनीष ठाकुरिया ने आईआईए के माध्यम से हेरिटेज को प्रकाश में लाने का आह्वान किया। उन्होंने बारां के भण्डदेवरा, शेरपुर के मंदिरों और बावडिय़ों को स्थापत्य कला का बेजोड़ उदाहरण बताया।

सूर्या प्राइम में आईआईए राजस्थान के कोटा सब चेप्टर की नई कार्याकरिणी के गठन के अवसर पर  एकत्र हुए आर्किटेक्ट्स इंस्टीट्यूट के पदाधिकारियों ने कहा कि आर्किटेक्ट्स विज्ञान और तकनीक के साथ समन्वय कायम करती है। यह इंजीनियरिग से इतर विधा है जिसके सामने कई प्रकार की चुनौतियां हंै। निरंतर जागरूकता बढ़ाकर इसमें निखार लाया जाने के लिए आईआईए अपने काम को आगे बढ़ाएगी।

दीपक गुप्ता अध्यक्ष बने

नई कार्यकारिणी में अध्यक्ष-दीपक गुप्ता, उपाध्यक्ष -निरूत्तम राठोड़, सचिव-भूपेश मालव एवं नित्येंद्र यादव, कोषाध्यक्ष-अमित अग्रवाल तथा कार्यकारिणी सदस्यों में गौरव गोकलानी, पियूष लाहौटी, कपिल तिवारी, शाहनवाज खान, अनुश्री गुप्ता को मनोनीत किया है। दीपक गुप्ता ने आगामी कार्यक्रमों की रूपरेखा पेश की। नगर विकास न्यास के वरिष्ठ नगर नियोजक संदीप दण्डवते ने आर्किटेक्ट्स के बीच आपसी समन्वय बढ़ाने पर जोर दिया। भूपेश मालव ने कौशल विकास, सरकार के नियमों की पालना की बात कही, इसी में आर्किटेक्ट्स की महत्ता है।

रावतभाटा में पेयजल संकट गहराया, पानी के लिए लोग परेशान

रावतभाटा। चंबल का किनारा, यहां से रामगंजमंडी पचपहाड़, भवानीमंडी, भीलवाड़ा तक पानी जा रहा है। लेकिन रावतभाटा के लोग पानी के लिए तरस रहे हैं। गर्मी की दस्तक के साथ ही नगर में पेयजल संकट गहराने लगा है। नगर के वार्ड 1, 2, 3, 4, 5 एवं 25 में जलदाय विभाग द्वारा पेयजल आपूर्ति समय पर नहीं करने से वार्डवासियों को पेयजल की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। जलदाय विभाग द्वारा इन वार्डो में सांय 5 बजे के बजाए किसी भी समय पेयजल की आपूर्ति की जा रही है।

साथ ही पानी के कम दबाव के चलते भीषण गर्मी में अनिश्चित समय पर होने वाली चंद मिनिटों की जलापूर्ति से वार्डवासियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। नलों में पानी आने के इंतजार में लोग घंटों पहले से ही नल के चारों ओर बर्तन रखकर नंबर आने के इंतजार में खड़े हो जाते है, लेकिन जलदाय विभाग द्वारा कुछ क्षण के लिए जलापूर्ति की जाती है, जो ऊंट के मुंह में जीरा का काम करती है। अभी गर्मी के शुरूआती दौर में ही यह हालात हैं, तो आने वाले समय में लोगों को और परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इन वार्डो में पानी नहीं आने से लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

वार्डवासियों का कहना है कि अभी यह हाल है तो आने वाले समय और दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। वार्डवासियों का कहना था कि जलदाय विभाग के अधिकारियों से कहा गया लेकिन अधिकारियों ने इस ओर कोई कार्रवाई नहीं की।

बूंदी के हिण्डोली क्षेत्र के करीब 80 मतदाताओं को पिछले विधानसभा चुनाव की तरह इस बार होने वाले लोकसभा चुनाव में भी हिंडोली पंचायत को छोड़कर चतरगंज पंचायत के कराडखेड़ी बूथ पर वोट डालने के लिए जाना पड़ेगा।

हिंडोली पंचायत के कालबेलिया व बंजारों के बरडे के रहने वाले मतदाताओं को बीते विधानसभा चुनाव में भी हिंडोली पंचायत के मतदान केंद्रों को छोड़कर चतरगंज पंचायत के मतदान केंद्र कराड खेड़ी में वोट डालने के लिए जाना पड़ा था। तब इन मतदाताओं ने इस पर रोष जाहिर किया था। लेकिन अब फिर और लोकसभा चुनाव में भी उन्हें वहीं जाना पड़ेगा मतदाता।

कन्हैया लाल बंजारा ने बताया कि हम वर्षों से हिंडोली पंचायत क्षेत्र के ही मतदान केंद्र पर वोट डालते हैं। लेकिन बीते विधानसभा चुनाव से ही उन्हें करार खेड़ी जाना पड़ रहा है, जो गलत है। क्योंकि उनका राशन कार्ड हिंडोली पंचायत का बना हुआ है और मतदान वह चतरगंज पंचायत में करते हैं। इससे उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसलिए उन्हें ऐसी व्यवस्था की जाए कि भविष्य में हिंडोली पंचायत में ही मतदान करने का अवसर मिले।