कोटा

0
1

कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र में 69.86 प्रतिशत मतदान

कोटा जिले में 70.40 लोगों ने किया मताधिकार का प्रयोग

कोटा । 17वीं लोकसभा के लिए हुए आम चुनाव में मतदान शांतिपूर्वक सम्पन्न हुआ। सुबह से ही मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं की लम्बी कतारें देखने को मिली, शहर से लेकर दूरदराज के गांवों तक गर्मी के बावजूद आम मतदाताओं में उत्साह बना रहा। चुनाव नियंत्रण कक्ष के अनुसार प्रात: 9 बजे तक जिले में 13.88 प्रतिशत मतदाताओं द्वारा मताधिकार का प्रयोग किया गया। पीपल्दा में 14.10 प्रतिशत,  सांगोद में 15.22, कोटा उत्तर में 12.48,  कोटा दक्षिण में 13.18, लाडपुरा में 13.46, एवं रामगंजमंडी में 15.20 प्रतिशत मतदाताओं द्वारा मताधिकार का प्रयोग किया गया। प्रात: 11 बजे तक जिले में 29.98 प्रतिशत मतदाताओं द्वारा मताधिकार का प्रयोग किया गया। पीपल्दा में 29.37, सांगोद में 31.88, कोटा उत्तर में 27.89, कोटा दक्षिण में 28.76, लाडपुरा में 29.72 एवं रामगंजमंडी में 32.63 प्रतिशत मतदान हुआ।

दोपहर 1 बजे तक जिले में 44.82 प्रतिशत मतदाताओं द्वारा मताधिकार का प्रयोग किया गया। पीपल्दा में 43.89, सांगोद में 47.22, कोटा उत्तर में 42.27, कोटा दक्षिण में 43.58, लाडपुरा में 44.20 एवं रामगंजमंडी में 48.22 प्रतिशत मतदान हुआ। अपरान्ह 3 बजे तक जिले में 55.56 प्रतिशत मतदाताओं द्वारा मताधिकार का प्रयोग किया गया। पीपल्दा में 54.06, सांगोद में 56.46, कोटा उत्तर में 53.22, कोटा दक्षिण में 55.44, लाडपुरा में 55.17 एवं रामगंजमंडी में 59.08 प्रतिशत मतदान हुआ। सायं 5 बजे तक जिले में 65.68 प्रतिशत मतदाताओं द्वारा मताधिकार का प्रयोग किया गया। पीपल्दा में 64.21, सांगोद में 66.39, कोटा उत्तर में 62.62, कोटा दक्षिण में 65.65, लाडपुरा में 65.59 एवं रामगंजमंडी में 69.68 प्रतिशत मतदान हुआ। सायं 6 बजे तक जिले में 70.40 प्रतिशत मतदाताओं द्वारा मताधिकार का प्रयोग किया गया। पीपल्दा में 67.98, सांगोद में 70.49, कोटा उत्तर में 67.87, कोटा दक्षिण में 70.69, लाडपुरा में 70.73 एवं रामगंजमंडी में 74.40 प्रतिशत मतदान हुआ।

मतदान प्रारम्भ के समय कुछ स्थानों पर ईवीएम के संचालन में व्यवधान आया लेकिन जिला प्रशासन द्वारा सभी स्थानों पर किये गये माकूल प्रबन्धों के रहते उन्हे त्वरित दुरूस्त कर पूरी गति से मतदान प्रक्रिया प्रारम्भ की गई। मतदान समाप्ति तक जिले भर में कहीं भी ईवीएम एवं वीवीपेट के बारे में समस्या प्राप्त नहीं हुई।

हाइटेक नियंत्रण कक्ष से निगरानी-

चुनाव गतिविधियों की मॉनिटरिंग के लिए कलक्ट्रेट स्थित टैगोर सभागार में हाईटेक नियंत्रण कक्ष बनाया गया जिसमें संभागीय आयुक्त एलएन सोनी, पुलिस महानिरीक्षक कोटा रेंज विपिन कुमार पांडये, जिला कलक्टर मुक्तानन्द अग्रवाल तथा पुलिस अधीक्षक शहर दीपक भार्गव ने मौजूद रहकर चुनाव गतिविधियों पर निगरानी रखी। जिला निर्वाचन अधिकारी के नेतृत्व में उप जिला निर्वाचन अधिकारी वासुदेव मालावत, प्रशिक्षण प्रकोष्ठ प्रभारी भागवंती जेठवानी, शिकायत प्रकोष्ठ प्रभारी सुनीता डागा, नियंत्रण कक्ष प्रभारी दीप्ति मीणा सहित आला अधिकारियों द्वारा निरन्तर निगरानी रखी जाकर समस्याओं का समय पर निराकरण करवाया। जिले के 140 वेबकास्टिंग वाले मतदान केन्द्रों के सीधे प्रसारण के लिए बडी वॉल स्क्रीन लगाई जाकर सभी 148 सेक्टर मजिस्ट्रेट भी दूरभाष के माध्यम से नियंत्रण कक्ष से सीधे जुड़े रहे।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने किया मतदान

जिला निर्वाचन अधिकारी मुक्तानन्द अग्रवाल ने उनकी पत्नि निकिता के साथ सिविल लाइन स्थित कृषि विभाग के कार्यालय में बनाये गये मतदान केन्द्र पर जाकर सुबह ही मतदान किया। उन्होंने जिले के सभी मतदाताओं को भी निर्भीक होकर मतदान करने की अपील की। इसी मतदान केन्द्र पर पुलिस महानिरीक्षक विपिन पांडेय, अतिरिक्त कलक्टर प्रशासन वासुदेव मालावत ने भी मतदान किया।

शांतिपूर्ण मतदान के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी ने आभार जताया

-जिला निर्वाचन अधिकारी मुक्तानन्द अग्रवाल ने शांतिपूर्ण मतदान के लिए सभी मतदाताओं का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने चुनाव कार्य में नियुक्त कार्मिकों, पुलिस के जवानों, अद्र्धसैनिक बल, प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से जुड़कर सहयोग करने वाली विभिन्न संस्थाओं, अधिकारियों एवं कर्मचारियों का भी आभार व्यक्त किया है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि गर्मी होने के बावजूद भी मतदाताओं ने पूरे उत्साह के साथ निर्भिक होकर अधिक से अधिक मतदान कर लोकतंत्र के प्रति अपनी आस्था जताई है इससे निश्चित रूप से मतदान के प्रति मतदाताओं में जागरूकता आएगी। उन्होंने स्वीप गतिविधियों में भागीदारी निभाने वाले सभी संगठनों एवं स्वीप टीम का भी आभार व्यक्त किया है।

झालावाड़-बारां संसदीय क्षेत्र में 71.19 प्रतिशत मतदान

झालावाड़। लोकसभा आम चुनाव में मतदान दिवस पर झालावाड़-बारां संसदीय क्षेत्र में अंतरिम 71.19 प्रतिशत मतदान हुआ। झालावाड़ जिले में 72.69 प्रतिशत व बारां जिले में 70.71 प्रतिशत मतदान हुआ है।

जिला निर्वाचन अधिकारी व कलक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने बताया कि विधानसभा क्षेत्र डग में 73.88 प्रतिशत, झालरापाटन में 71.76 प्रतिशत, खानपुर में 70.58 प्रतिशत व मनोहरथाना में 74.54 प्रतिशत मतदान हुआ। बारां जिला निर्वाचन अधिकारी इन्द्रसिंह राव के अनुसार विधानसभा क्षेत्र अन्ता में 68.21, किशनगंज में 71.71, बारां-अटरू में 70.98 तथा छबड़ा में 71.77 प्रतिशत मतदान रहा है।

लोकतंत्र के महापर्व पर लोगों ने दिखाया अपार उत्साह

बूंदी। लोकतंत्र के उत्सव में सोमवार को शहरवासियो में अपार उत्साह देखा गया। सूर्यदेव का रोद्र रूप भी उनके उत्साह को कम नहीं कर पाया। तेज धूप के बावजूद शहरवासी अपने मतदान का प्रयोग करते देखे गए। शहर में बनाए गए अधिकांश मतदान केन्द्रों पर कतारें लगी हुई थी। दोपहर 12 बजे तक 29 प्रतिशत मतदान हुआ था।

लोगों में मतदान करने का जज्बा इस कदर हावी रहा कि उनके आगे मतदान करने में उम्र भी आडे नही आई। रजत गृह कॉलोनी निवासी रिटायर्ड पटवारी 99 वर्षीय भंवरलाल शर्मा को उनके घरवाले मतदान करने नहीं लाए तो वह स्वयं ही ऑटो में बैठकर मतदान करने पहुंचे।

दिग्गज नेता भी पहुंचे मतदान करने

नगर परिषद सभापति महावीर मोदी ने मतदान किया। राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष एवं भाजपा नेता श्रीमति ममता शर्मा ने भी अपने मतदान का प्रयोग किया। राज्यमंत्री अशोक चांदना ने भी श्योपुरिया की बावडी स्थित सरकारी स्कूल बूथ पर पहुंच कर मतदान किया। कोटा बून्दी लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी रामनारायण मीणा ने भी पूर्व मंत्री हरिमोहन शर्मा के साथ महारानी गल्र्स स्कूल में मतदान किया।

बुजुर्ग मतदाताओं की सहायता की

मतदान केन्द्रों पर बुजूर्गो एवं विकलांगों की मदद करने के लिए नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों की अहम भूमिका रही। उन्होने विकंलाग व बुजूर्ग लोगों को व्हील चेयर पर बैठाकर मतदान स्थल तक लाए और मतदान करवाया। इसी प्रकार पुरानी धानमंडी स्थित मतदान केन्द्र पर भी फारएवर बेडमिंटन क्लब के सदस्यों ने भी अपनी सेवाएं दी। शहर के चौगान गेट स्कूल में निर्वाचन विभाग द्वारा बनाया गया आदर्श मतदान केन्द्र लोगों के आर्कषण का केन्द्र रहा। इधर लोकसभा चुनाव में पहली बार अपने मतदान का प्रयोग कर रहे नव मतदाताओं में भी खासा उत्साह देखा गया। नव मतदाताओं का कहना था कि देश के निर्माण में वह पहली बार अपने मत का प्रयोग कर रहे हैं। यह बात उन्हे सबसे अच्छी लग रही है।

शराब पीकर मतदान कराने आया कार्मिक, निलंबित किया

सांगोद। कोटा-बूंदी लोकसभा क्षेत्र की विधानसभा सांगोद में सोमवार को मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न हुआ। शराब पर सख्ती बरतने के लिए प्रशासन ने विधानसभा क्षेत्र में कड़ी चौकसी के वावजूद भी चुनाव दल के कर्मचारी नशे में चूर होकर मतदान नहीं कराने पर चुनाव आयोग के आदेशों की धज्जियां उड़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इस मामले में सांगोद क्षेत्र के ग्राम चतरपुरा में शराब पीकर चुनाव नहीं कराने व आदेशों की अवहेलना करने के मामले में एक शारिरिक शिक्षक को सहायक रिर्टनिंग अधिकारी ने तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया गया। जिसे कोटा जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय में लगाया गया है। सांगोद विधानसभा के भाग संख्या 159 राउप्रावि चतरपुरा के कमरा नम्बर के मतदान दल संख्या 917 में जिला निर्वाचन अधिकारी कोटा द्वारा शाहनवाद (इटावा) में शारिरिक शिक्षक के पद पर कार्यरत बृज नन्दन सिंह को पीओ 2 नियुक्त किया गया था। जो मतदान दल में निर्वाचन कार्य के दौरान अधिक शराब सेवन करने तथा निर्वाचन नहीं कराने एवं आदेशों की अवहेलना करने पर तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया। साथ ही आदेशित किया है मुख्यालय जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय कोटा में रहकर निलम्बन काल में कार्मिक को नियमानुसार निर्वाहन भत्ता देय होगा।

बारातियों से भरी ट्रेक्टर ट्रॉली असन्तुलित होकर पलटी, आधा दर्जन घायल

हिण्डोली। हिण्डोली थाना क्षेत्र के तालाबगांव के पास सोमवार को बारातियों से भरी ट्रेक्टर ट्रॉली असन्तुलित होकर पलट गई। जानकारी के अनुसार काछोला गांव से प्रेमपुरा जा रही बारात  तालाबगांव के पास गलत दिशा से आ रहे ट्रेलर को देख तेज रफ्तार बारातियों से भरी ट्रेक्टर ट्रॉली पलट गई। हादसे में करीबन आधा दर्जन बाराती घायल हो गए। सूचना पाकर हिण्डोली थाना पुलिस मौके पर पहुंची। घायलों को बूंदी जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां घायलों का इलाज जारी है। तो उधर हिण्डोली थाना पुलिस भी मामले की जांच में जुट गई है।

कोचिंग छात्र ने लगाई फांसी कारणों का नहीं हुआ खुलासा

कोटा। जवाहर नगर थाना इलाके में खाना खाने के बाद एक कोचिंग छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

थाने से हैड कांस्टेबल रणधीर ने बताया कि विनोद (16) पुत्र रघुपत गुर्जर निवासी बनजी जिला भरतपुर हाल इन्द्रा विहार के हॉस्टल में रहकर ऐलन कोचिंग में पढ़ाई कर रहा था। रविवार रात को उसका खाने का टिफिन आया था। उसने अपने कमरे में खाना खाया और सो गया। सुबह जब काफी देर तक उसने अपने कमरे का दरवाजा नहीं खोला तो मकान मालिक ने उसे आवाज लगाई। अन्दर से छात्र ने कोई उत्तर नही दिया। इस पर मकान मालिक ने खिड़की से अन्दर देखा तो विनोद फंदे पर झूल रहा था। मकान मालिक ने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर छात्र के शव को फंदे से नीचे उतारा। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए एमबीएस अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया।

उन्होंने बताया कि छात्र के कमरे की तलाशी ली गई। लेकिन उसके कमरे में कोई सुसाईड नोट नही मिला। पुलिस ने छात्र के परिजनों को सूचना दी। सूचना मिलने पर परिजन सोमवार को सुबह कोटा पहुंचे। परिजनों के आने के बाद पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौप दिया। मोर्चरी के बाहर मृतक के पिता ने बताया कि मैने मेरे बेटे को पढऩे के लिए कोटा भेजा था। वह पढऩे में होशियार था। उसने किस कारण फांसी लगाई। हमे पता होता कि वह कोटा में रहकर ऐसा कदम उठाएगा तो उसे कोटा कभी नहीं भेजते।

कार की टक्कर से बाइक सवार अधेड़ की मौत

कोटा। चित्तोडग़ढ़ जिले के रावतभाटा थाना क्षेत्र में सोमवार को कार की टक्कर लगने से बाइक सवार एक अधेड़ की मौत हो गई।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि प्रेमशकंर 47 वर्ष पुत्र रतनलाल मीणा निवासी मोहनपुरा जो बाइक पर जा रहा था। रास्ते में मोहनपुरा के पास कार की टक्कर लगने से घायल हो गया। जिसे परिजनों ने उपचार के लिए रावतभाटा के अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत में सुधार नहीं होने पर उसे कोटा रैफर कर दिया, परिजन उसे लेकर कोटा एमबीएस अस्पताल पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सांैप दिया। पुलिस ने मृतक के परिजनों की रिपोर्ट पर कार चालक के खिलाफ गफलत व लापरवाही से वाहन चलाकर दुर्घटना कारित करने की जांच शुरू कर दी हैं।