कोलकाता, कोरोना के चलते 22 मार्च को पहले चरण का लॉकडाउन शुरु होने के समय से ही देशभर में नियमित ट्रेनों का परिचालन बंद

0
19

कोलकाता, कोरोना के चलते 22 मार्च को पहले चरण का लॉकडाउन शुरु होने के समय से ही देशभर में नियमित ट्रेनों का परिचालन बंद है। रेलवे द्वारा विभिन्न शहरों के लिए इस समय सिर्फ स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। पूर्व में 200 स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरु किया गया था और हाल में रेलवे द्वारा 80 और ट्रेनों के परिचालन की घोषणा की गई है। लेकिन इसमें अबतक सियालदह, कोलकाता या हावड़ा से मिथिलांचल के लिए यानी दरभंगा, मधुबनी, जयनगर या सीतामढी तक के लिए एक भी ट्रेन का परिचालन शुरु नहीं किया गया है। इसके कारण यहां रह रहे लाखों की तादाद में मिथिला वासियों को अपने घर आने-जाने जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसको देखते हुए मिथिला क्षेत्र के लिए ट्रेन शुरू किए जाने की मांग पर मिथिला विकास परिषद एवं विद्यापति जनकल्‍याण  चेरिटेबल ट्रस्ट के द्वारा संयुक्त रूप से शुक्रवार को सुबह 10 बजे से सियालदह स्टेशन के सामने सांकेतिक अनशन किया गया।
मिथिला विकास परिषद के अध्यक्ष अशोक झा की अगुआई में आयोजित अनशन में मिथिलावासियों ने बढ़- चढ़ कर भाग लिया। अशोक झा ने आरोप लगाया कि रेलवे बोर्ड तथा रेल मंत्री के उदासीन रवैयों के कारण  बरौनी, समस्तीपुर,दरभंगा, मधुबनी, जयनगर, सीतामढी के लिए ट्रेनों का परिचालन नहीं किया जा रहा है। झा ने कहा कि उक्त स्टेशनों के लिए अविलंब ट्रेनों का परिचालन नहीं होने पर सात दिनों के पश्चात व्यापक आंदोलन किया जायेगा। झा ने आरोप लगाया कि अनशन के दौरान शारीरिक दूरी का पालन करने के के बावजूद रेलवे अधिकारियों ने उन लोगों के साथ यहां बदसलूकी की। इस दौरान ट्रेन परिचालन की मांग पर सियालदह के डीआरएम के नाम पर ज्ञापन स्टेशन मैनेजर विकास बसु को सौंपा गया। इसके साथ ही ट्रेन चलाने की मांग पर शुक्रवार को पुनः संस्था की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रेल मंत्री पीयूष गोयल, रेलवे बोर्ड के चेयरमेन समेत बंगाल एवं बिहार के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है।
अशोक झा ने कहा कि सात दिनों के अंदर यहां से मिथिला के लिए ट्रेन परिचालन शुरू नहीं होने पर वे लोग अपने सहयोगियों के साथ कोलकाता में गांधी मूर्ति के समक्ष अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठेंगे। अनशन के दौरान नार्थ कोलकाता जय हिंद बाहिनी के चेयरमैन कृष्ण प्रताप सिंह, कुमुद चौधरी, विद्यापति जनकल्याण चेरिटेबल ट्रस्ट के उपाध्यक्ष संतोष कुमार झा, चंदन झा, ललन झा, बरुन झा, उदय कुमार झा, रघुनाथ चौधरी, संतोष खेरवार, अशोक झा (2), शैल झा, रूपा चौधरी, ममता झा, किरण प्रतिहस्त, राघवेंद्र ठाकुर, बिनय प्रतिहस्त, विनोद झा, चंद्रदीप झा, नबोनाथ झा, रंजीत साव, उदय कुमार झा, रमेश चंद्र झा, मदन चौधरी, पोषणजीत सिंह, शक्ति सिंह, हनुमान मिथिला भक्त मंडल के धनंजय ठाकुर, संतोष झा, शंकर झा, प्रभाष राय, हेमंत चौधरी समेत अन्य उपस्थित थे।(UNA)