कोलकाता: कोविड-19 के चलते काफी कम संख्या में ट्रेनों का संचालन होने से रेल टिकट की कालाबाजारी को लेकर दलालों की पौं बारह

0
142

कोलकाता, कोविड-19 के चलते काफी कम संख्या में ट्रेनों का संचालन होने से रेल टिकट की कालाबाजारी को लेकर दलालों की पौं बारह है। एक ओर जहां कुछ खास ट्रेनों में कंफर्म टिकट के लिए आम आदमी घंटों कतार में खडे होने को मजबूर हैं, वहीं टिकट दलाल मोटी कमीशन लेकर काउंटर से कंफर्म टिकट हासिल कर रहे हैं।
आम आदमी को आरक्षित टिकट आसानी से मिल सके इसके लिए आरपीएफ ने दलालो के खिलाफ धरपकड़ अभियान शुरू कर दिया है। इसके तहत आरपीएफ ने हावड़ा स्टेशन से एक दलाल को टिकट की कालाबाजारी करते रंगे हाथों दबोचा। आरोपित के खिलाफ रेलवे एक्ट में मामला दर्ज किया गया है।
जानकारी के अनुसार आरपीएफ के हावड़ा नार्थ पोस्ट का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे सेंट्रल पोस्ट कमांडर फिरोज अख्तर के नेतृत्व में टीम ने ओल्ड कम्लेक्स स्थित आरक्षण कार्यालय में बने तत्काल आरक्षण काउंटर के बाहर टिकट की कालाबाजारी के खिलाफ अभियान चलाया। इसी बीच एक शख्स की गतिविधियां संदिग्ध लगने पर उसे हिरासत में लेकर तलाशी ली गई तो उसके पास से ट्रेन नंबर 02663 के 1 अक्टूबर की यात्रा का हावड़ा से चेन्नई के 2 आरक्षण टिकट, तीन खाली आरक्षण आवेदन फार्म तथा नगदी बरामद हुए। पूछताछ में उक्त शख्स टिकट के बाबत संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।
आरोपित ने अपना नाम देव करण सिंह (33) बताया। वह हावड़ा के लिलुआ थाना अंतर्गत बामनगाछी सी रोड का रहने वाला बताया। आरपीएफ ने आरोपित के खिलाफ 143 रेलवे एक्टा में मुकदमा दर्ज किया है। टिकट दलाल के खिलाफ अभियान चलाने वाली टीम में एसआइ कौशल कुमार, एसआइ संजीव कुमार, एसआइ महेश चंद्र यादव व कांस्टेबल सोम मंडी मौजूद रहे।(UNA)