कोलकाता, बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उत्तर बंगाल के अलीपुरद्वार जिले में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले में पथराव के बाद उसमें शामिल कारों के क्षतिग्रस्त होने के बाद गुरुवार को कहा कि राज्य में राजनीतिक हिंसा के नियंत्रण का कोई संकेत नहीं

0
89

कोलकाता, बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उत्तर बंगाल के अलीपुरद्वार जिले में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले में पथराव के बाद उसमें शामिल कारों के क्षतिग्रस्त होने के बाद गुरुवार को कहा कि राज्य में राजनीतिक हिंसा के नियंत्रण का कोई संकेत नहीं है। राज्यपाल पड़ोसी कूचबिहार जिले के दौरे पर हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में राजनीतिक हिंसा और प्रतिशोध का माहौल व्याप्त है।
धनखड़ ने कूचबिहार में कहा कि राजनीतिक हिंसा के नियंत्रण का कोई संकेत नहीं है। इसका कारण यह है कि लोकसेवक राजनीतिक कार्यकर्ता बन गए हैं। धनखड़ उत्तर बंगाल के एक महीने के दौरे पर हैं। उन्होंने इससे पहले भी आरोप लगाया था कि बंगाल में पुलिस और नौकरशाही का राजनीतिकरण किया जा रहा है। उन्होंने लोक सेवकों को राजनीतिक पदाधिकारियों की तरह काम नहीं करने के लिए कहा था।
भाजपा के बंगाल प्रदेश अध्यक्ष घोष के काफिले पर अलीपुरद्वार जिले में भारत-भूटान सीमावर्ती नगर जयगांव में प्रदर्शनकारियों द्वारा पत्थर फेंके गए और काले झंडे दिखाए गए, जब वह पार्टी के एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे। इस घटना में काफिले में शामिल कम से कम दो कारें क्षतिग्रस्त हो गईं। गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) के कई कार्यकर्ता वहां घोष के खिलाफ नारे लगाते देखे गए।(UNA)