कोलकाता, । तृणमूल कांग्रेस के बागी कद्दावर मंत्री शुभेंदु अधिकारी को मनाने के लिए पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी हर हथकंडे अपना रही हैं। एक तरफ जहां शुभेंदु को मनाने व उनके पार्टी छोड़ने की अटकलों पर विराम लगाने का तृणमूल लगातार प्रयास कर रही है,

0
138

कोलकाता, । तृणमूल कांग्रेस के बागी कद्दावर मंत्री शुभेंदु अधिकारी को मनाने के लिए पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी हर हथकंडे अपना रही हैं। एक तरफ जहां शुभेंदु को मनाने व उनके पार्टी छोड़ने की अटकलों पर विराम लगाने का तृणमूल लगातार प्रयास कर रही है, वहीं दूसरी तरफ उनके करीबी नेताओं की सुरक्षा हटा कर बागी मंत्री को धमकाने से भी बाज नहीं आ रही है।

सोमवार को तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद सौगत राय ने शुभेंदु के साथ बैठक भी की थी, हालांकि इसमें कोई हल नहीं निकला था। इस बीच मंगलवार को सौगत राय ने कहा कि शुभेंदु तृणमूल में ही हैं और पार्टी संगठित होकर आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेगी। तृणमूल भवन में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता राय ने कहा कि शुभेंदु को लेकर मेरे पास बोलने के लिए नया कुछ नहीं है। वह तृणमूल में ही हैं। उन्होंने यह भी कहा कि शुभेंदु ने भी पार्टी के खिलाफ अभी तक कुछ नहीं कहा है। राय ने कहा कि एक दिन पहले शुभेंदु परिवहन दफ्तर भी गए थे और काम किया है।

शुभेंदु के दो करीबी नेताओं की सुरक्षा हटाई गई -बंगाल सरकार ने शुभेंदु अधिकारी के दो करीबी नेताओं की सुरक्षा हटा दी है। पुरुलिया जिला प्रशासन ने जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष सृष्टिधर महतो तथा उनके पुत्र व जिला पंचायत के सदस्य बलराम महतो की सुरक्षा हटा दी है। दोनों नेताओं ने कहा कि शुभेंदु के हम लोग बहुत करीबी हैं। किस कारण जिला प्रशासन ने सुरक्षा हटाई है, उन्हें पता नहीं। वहीं दूसरी ओर जिला प्रशासन की ओर से कहा गया है कि इन दोनों नेताओं की फिलहाल कोई सुरक्षा की जरूरत नहीं थी, इसीलिए सुरक्षा प्रहरियों को हटा दिया गया है।