गांधी सेतु से निर्माण सामग्री से भरे ट्रकों व ट्रैक्टरों का आवागमन पर रोक

0
9

अतिरिक्त चक्कर से बढ़ गया था ढुलाई खर्च, गांधी सेतु से निर्माण सामग्री से भरे ट्रकों व ट्रैक्टरों का आवागमन रोकने से वाहनों को गया, कोइलवर या कोडरमा से आरा के बबूरा पुल से होते हुए उत्तर बिहार की ओर जाना पड़ता था और 100-150 किमी का अतिरिक्त चक्कर लगाना पड़ता था। इससे न केवल जाने में लगने वाला डीजल का खर्च बढ़ गया था बल्कि जगह-जगह जाम रहने से सात-आठ घंटे की दूरी तय करने में सात-आठ दिन तक लग जाते थे इससे ढुलाई खर्च बहुत बढ़ गया था। पटना जिला ट्रक ऑनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष धनंजय कुमार सिंह ने कहा कि, गांधी सेतु को निर्माण सामग्री वाले भारी ट्रकों के आवागमन के लिए खोलने से अब वाहनों को गंगा पार करने के लिए अतिरिक्त चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा और न ही कई दिनों तक लंबे जाम में फंसना पड़ेगा। ऐसे में ढुलाई खर्च का तेजी से घटना स्वाभाविक है।(UNA)