चेन्नै तमिलनाडु की दिवगंत मुख्यमंत्री जयललिता की करीबी और AIADMK से बर्खास्त नेता वीके शशिकला 4 साल बाद आधिकारिक रूप से जेल से रिहा हो गई हैं।

0
85

चेन्नै
तमिलनाडु की दिवगंत मुख्यमंत्री जयललिता की करीबी और AIADMK से बर्खास्त नेता वीके शशिकला 4 साल बाद आधिकारिक रूप से जेल से रिहा हो गई हैं। भ्रष्टाचार से जुड़े मामले में उनकी सजा पूरी हो गई है। वह बेंगलुरु जेल में बंद थीं। हालांकि कोरोना वायरस से संक्रमित शशिकला का इलाज अभी जारी रहेगा। शशिकला को आय से अधिक मामले में चार साल की सजा सुनाई गई थी।

बेंगलुरु मेडिकल कॉलेज ने बताया, ‘शशिकला आज सुबह 11 बजे आधिकारिक रूप से रिहा हो गई हैं। वह 21 जनवरी को विक्टोरिया अस्पताल शिफ्ट की गई थीं जहां उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। अगर उनमें कोरोना के लक्षण नहीं होंगे और 3 दिन तक ऑक्सिजन सपोर्ट से मुक्त होंगी तो प्रोटोकॉल के तहत वह 10वें दिन उन्हें डिस्चार्ज किया जाएगा।’
शशिकला का स्वास्थ्य स्थिर
बेंगलुरु मेडिकल कॉलेज ऐंड रिसर्च इंस्टिट्यूट ने शशिकला का मेडिकल बुलेटिन जारी किया। अस्पताल के हवाले से कहा गया, ‘शशिकला स्थिर हैं। शशिकला की सेहत बेहतर है और उनका पल्स रेट 76 प्रति मिनट है और ब्लड प्रेशर 166/86 है।’

सारी कानूनी औपचारिकताएं हुईं पूरी
शशिकला के वकील राजा सेंथूर पंडियन ने कहा, सारी औपचारिकता पूरी हो चुकी हैं। अब वह सारी लीगल औपचारिकता से मुक्त हैं। मेडिकल सलाह के तहत अभी वह अस्पताल में रहेंगी।
आय से अधिक संपत्ति के मामले में हुई थी सजा
वी के शशिकला के 20 जनवरी के संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी और फिलहाल वह विक्टोरिया अस्पताल के कोविड-19 केंद्र में हैं। अभी यह साफ नहीं है कि उन्हें अस्पताल से कब छुट्टी मिलेगी। फरवरी 2017 में 66 करोड़ रुपये की आय के ज्ञात स्रोत से अधिक सपंत्ति के मामले में शशिकला जेल में बंद थीं।