छिन्दवाड़ा

0
17
आठ दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय जैन ऑनलाईन संस्कार शिविर संम्पन्न
छिन्दवाड़ा सहित सम्पूर्ण भारत एवं विश्व के 25 देशों से 13,126 विद्यार्थियों ने लिया लाभ।
छिन्दवाड़ा – कोरोना संक्रमण काल मे लगा लॉकडाऊन जैन समाज की अग्रणी सेवा भावी संस्था अखिल भारतीय जैन युवा फेडरेशन के युवाओं सहित बच्चों के लिए एक नई ऊर्जा के साथ उपलब्धि लेकर आया जिसमे युवा पीढ़ी को विश्व बंधुत्व के लिए कार्य करने का मार्ग प्रशस्त किया।
अखिल भारतीय जैन युवा फेडरेशन,टोडरमल स्मारक एवं अर्हंम पाठशाला द्वारा हिंदी,अंग्रेजी,गुजराती,मराठी,तमिल एवं तेलगू 6 भाषाओं में आठ दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय जैन ई ग्रुप शिविर लगाया गया। जिसमें  में भारत सहित अमेरिका,आस्ट्रेलिया,यूके,यूएई,केन्या सहित सम्पूर्ण विश्व के 25 देशों से 13,126 विद्यार्थियों ने हिस्सा लेकर एक नया इतिहास रच दिया।
इस शिविर को लेकर आयोजक समिति में जबरदस्त उत्साह है जो भविष्य में प्रत्येक आयोजन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित कर पूरे विश्व मे भारत का गौरव बढावेंगे।
फेडरेशन के मीडिया प्रभारी दीपकराज जैन ने बताया की शिविर का रंगारंग समापन समारोह पुरुस्कार वितरण के साथ किया गया। जिसके मुख्य वक्ता कुलपति डॉ.हुकुमचन्दजी भारिल्ल थे समारोह की अध्यक्षता डॉ.शान्तिकुमार पाटिल एवं सफल संचालन पं.पीयूष शास्त्री जयपुर ने किया।
डॉ.भारिल्ल ने कहा कि संस्कार बिना की सभी सुविधाएं पतन का कारण होती हैं अतः बच्चों को सम्पत्ति देने के पहले अच्छे संस्कार दो। यह शिक्षण शिविर नई पीढ़ी में संस्कारों के बीजारोपण के मुख्य उद्देश्य से लगाया गया था।
जो ऐतिहासिक रहा जिसमे पूरे विश्व ने जैन दर्शन के साथ भारतीय श्रवण  संस्कृति,शाकाहार सदाचार एवं अहिंसा का पाठ पढ़ा और आत्मा से परमात्मा बनने का मार्ग जाना। उन्होंने सफल आयोजन के लिए में तमाम विद्धवतगणों सहित फेडरेशन,अर्हंम पाठशाला के सेवा भावी कार्यकर्ताओं को साधुवाद दिया।
इनका मिला विशेष सहयोग –
शिविर को सफल बनाने में सर्वश्री परमात्मप्रकाश भारिल्ल,एसपी भारिल्ल,डॉ.संजीव गोधा जयपुर,पं.विराग शास्त्री जबलपुर,पं.विपिन शास्त्री नागपुर,पं.धर्मेंद्र शास्त्री कोटा,पं.सुदीप शास्त्री,पं.ज्ञायक शास्त्री मुम्बई,पं.विवेक शास्त्री इंदौर,पं.अशोक शास्त्री राधौगढ़,पं.आकाश शास्त्री खनियाधना,पं.शुद्धात्म शास्त्री, पं.कार्तिक शास्त्री बिना,पं.अर्पित शास्त्री,पं.अनुभव शास्त्री,पं.समकित शास्त्री,प्रतीति मोदी नागपुर के साथ 3 सौ विद्धवानों ने अपनी कुशल सेवाएं देकर जिन शासन की मंगल प्रभावना की।
*ये हुये मुख्य आयोजन* –
आकाश शास्त्री ने बताया कि आठ दिवसीय शिक्षण शिविर में शिक्षण कार्य के साथ विविध ज्ञानवर्धक सांस्कृतिक एवं साहित्यिक कार्यक्रमों में हजारों विद्यार्थियों ने हिस्सा लेकर सभी का मन जीत लिया।
जिसमे “कौन बनेगा धर्म शिरोमणि” “आप क्या सोचते हैं” “अर्हम बोड मास” “हमारे  तीर्थंकर” इन विभिन्न प्रतियोगिताओं के माध्यम से बच्चों ने भारतीय प्रतीक चिन्ह एवं कथाओं का ज्ञान प्राप्त किया।
प्रतियोगिताएं जिसमें जिसमें “अतीत के झरोखे” से महापुरुषों की यादें ताजा करी। “ई-शिविर ब्रैकिंग न्यूज़”,जैन “धर्म की जय-जयकार”,आईएम अर्हम आदि प्रतियोगिताओं में सुंदर प्रस्तुति दी गई।
*ये रहे सर्वश्रेष्ठ शिविरार्थी*-
सुदीप शास्त्री मुम्बई ने बताया कि विविध सांस्कृतिक आयोजनों में लगभग 4 हजार से अधिक शिविरार्थियों ने हिस्सा लिया जिसमें से यूएसए से अनन्या जैन,प्रज्ञा जैन कैलिफोर्निया,शौर्यका चौधरी मुंबई,धर्मी शाह बोरीवली मुम्बई,समकित सुधीर जैन बैंगलोर,द्रव्य जैन दिल्ली,आर्जव चिंतामन भूस ने सर्वश्रष्ठ स्थान प्राप्त कर शिविर का गौरव बढ़ाया।
इन्ही के साथ दस ग्रुपों में प्रथम,द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर रहे विद्यार्थियों की सम्मानित किया गया। जिसके प्रथम ग्रुप में अगम्या जैन,सुहानी जैन दिल्ली,आराध्या मुज़्ज़फरनगर रहीं। द्वितीय ग्रुप में अनवय जैन सूरत,लब्धि जैन मलकापुर,नित्या भविन जैन औरंगाबाद रहीं। तृतीय ग्रुप में सम्यक जैन भरुत,सिद्धांश जैन विदिशा,अनिमेष जैन गांधीनगर रहे। चतुर्थ ग्रुप में श्वाती जैन खरेड़ी, ईशिता जैन चेन्नई,विशुद्धि जैन देहरी रहीं। पंचम ग्रुप में जैनम जैन जयपुर,नियम जैन आगरा,ममता जैन दमोह रहीं।षष्टम ग्रुप में मुदित जैन टोकर, हर्षित जैन उदयपुर,अक्षत जैन मुम्बई रहे। सप्तम ग्रुप में रिया जैन शिवपुरी,ज्ञप्ति जैन दिल्ली,हर्षिता जैन अकाझिरी दिल्ली रहीं। अष्टम ग्रुप में शिल्पी जैन इंदौर,निपेक्षा जैन उदयपुर,पायल जैन उदयपुर रहीं।नौवें ग्रुप में प्रियंका पंचोलिया बैंगलोर,ध्रुव शाह बासी मुम्बई,स्पर्श जैन देहली रहें एवं दसवें ग्रुप में प्रतिमा जैन कोलारस,आशिनी दोषी एवं ममता दोषी दमोह रहीं जिन्हें आयोजक समिति ने सम्मानित किया।
*सहयोगियों का माना आभार* –
ज्ञायक शास्त्री मुम्बई ने सफल आयोजन के लिए समस्त विद्यार्थियों,गुरुजनों,अभिभावकों सहित प्रचार प्रसार के लिए देशबंधु समाचार सहित सम्पूर्ण मीडिया जगत का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया।