जम्मू: देश आज अपना 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा है और इस अवसर पर भारत में जम्मू में भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा से पाकिस्तान को शांति का संदेश दिया है.

0
118
जम्मू: देश आज अपना 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा है और इस अवसर पर भारत में जम्मू में भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा से पाकिस्तान को शांति का संदेश दिया है. जम्मू के आर एस पुरा सेक्टर में बीएसएफ में सीमा पर प्रदेश का सबसे ऊंचा तिरंगा झंडा फहराया है.
72 वें गणतंत्र दिवस पर जम्मू में भारत-पाकिस्तान सीमा पर तैनात बीएसएफ ने पाकिस्तान को शांति का संदेश दिया है. बीएसएफ ने जम्मू के आरएस पुरा सेक्टर के ऑक्ट्रॉय पोस्ट पर 131 फ़ीट ऊंचे पोल पर लगे तिरंगे को फहराया है, जो प्रदेश में सबसे ऊंचा लहराने वाला तिरंगा होगा. यह तिरंगा यहां 24 घंटे लहराता रहेगा और रात में रोशनी की चकाचौंध में जगमगायेगा.
131 फीट ऊंचे पोल पर लगे इस तिरंगे का उद्घाटन विधिवत पूजा अर्चना के बाद बीएसएफ के जम्मू फ्रंटियर के आईजी एनएस जमवाल ने किया. उनके मुताबिक, यह प्रदेश के लोगों के लिए एक गौरव का क्षण है. यह तिरंगा झंडा फहराया गया है, वहां से पाकिस्तान के सबसे बड़े जिलों में एक सियालकोट की दूरी महज 11 किलोमीटर है जबकि यहां से लाहौर करीब 140 किलोमीटर दूर है.
बीएसएफ ने दावा किया है कि उनके द्वारा कराए गए इस झंडे को भारत और पाकिस्तान दोनों तरफ से करीब 30 किलोमीटर की दूरी से देखा जा सकता है जिसका मतलब साफ है कि न केवल सियालकोट में बैठे लोग इस तिरंगे को फहराता देख पाएंगे बल्कि सियालकोट में पाकिस्तानी रेंजर्स और सेना के मुख्यालय से भी इस तिरंगे को साफ देखा जा सकता है.
वहीं, बीएसएफ ने यह भी साफ किया है कि पाकिस्तान इसी अंतरराष्ट्रीय सीमा से भारत के खिलाफ न केवल घुसपैठ की साजिश रच रहा है बल्कि वह लगातार यहां सुरंग खोदकर आतंकियों को भारतीय सीमा में भेजने की फिराक में है. इसके साथ ही इसी सीमा से पाकिस्तान ने कई बार ड्रोन के जरिए हथियार और पैसा आतंकियों तक भेजने की कोशिश की है.  बीएसएफ की मानें तो वह पाकिस्तान की हर नापाक साजिश पर कड़ी नजर बनाए हुए हैं और उसके साथ ही सीमा पर यह तिरंगा झंडा फैला कर उन्होंने पाकिस्तान को शांति का संदेश दिया है. बीएसएफ में आर एस पुरा की जिस ऑक्ट्रॉय पोस्ट पर इस 131 फीट ऊंचे झंडे को फहराया है, वहां देश-देश विदेशी पर्यटक घूमने आते हैं. ऐसे में यहां यह तिरंगा यहां के जवानों के साथ साथ इन विदेशी पर्यटक के लिए भी एक आकर्षण का केंद्र होगा.