जयपुर, एनडीए में सहयोगी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और सांसद हनुमान बेनीवाल ने कृषि कानूनों के मामले में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि किसानों की बात सुननी चाहिए

0
79

जयपुर, एनडीए में सहयोगी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और सांसद हनुमान बेनीवाल ने कृषि कानूनों के मामले में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि किसानों की बात सुननी चाहिए। उन्होंने कहा कि किसानों की बात सुनकर कृषि कानूनों को वापस लेने की जरूरत है।
उन्होंने ट्वीट कर कहा कि हरियाणा समेत आसपास के राज्यों की सरकारें किसानों पर कोई दमनकारी नीति नहीं अपनाएं। अगर पुलिस व सरकारों ने कोई दमनकारी नीति अपनाई तो राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी राजस्थान सहित देशभर में किसानों के पक्ष में प्रदर्शन करेगी। केंद्र को स्वामिनाथन आयोग की सभी सिफारिशों को लागू करने की भी जरूरत है ताकि किसान कौम का भला हो सके।
उल्लेखनीय है कि एनडीए का सहयोगी दल होने के बावजूद बेनीवाल कई मुद्दों पर केंद्र सरकार व भाजपा नेताओं के खिलाफ बयानबाजी कर चुके हैं। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ बेनीवाल ने कई बार सार्वजनिक रूप से बयान दिए।
उन्होंने वसुंधरा राजे और प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर मिलीभगत का आरोप तक लगाया। वहीं कुछ दिनों पूर्व जोधपुर में किसानों से जुड़े मुद्ददों पर कहा था कि वे किसी भी स्थिति में किसानों के साथ अन्याय नहीं होने देंगे।
उन्होंने यहां तक कहा था कि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी की आपत्ति यह है कि कृषि कानूनों से जुड़े विधेयक संसद में पेश करने से पहले सहयोगी दलों को विश्वास में नहीं लिया गया। प्रदेश के विभिन्न जिलों में पार्टी के कार्यक्रमों एवं पंचायत चुनाव के दौरान प्रचार में किसानों को संबोधित करते हुए भी बेनीवाल ने कृषि कानूनों का विरोध किया है । उन्होंने कहा कि वे किसान के साथ हैं,चाहे इसके लिए कुछ भी करना पड़े।(UNA)