सीएम अशोक गहलोत ने ली आला अधिकारियों की बैठक, करौली में भी धारा-144

जयपुर। प्रदेश में उग्र हो रहे गुर्जर आरक्षण आंदोलन का सीएम अशोक गहलोत ने पूरा फीडबैक लिया। उसके बाद आला अधिकारियों के साथ इस मसले पर बैठक की। सीएम गहलोत ने दोपहर में दिल्ली से लौटते ही स्टेट हैंगर पर ही गुर्जर मसले को लेकर बैठक ली। बैठक में चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा, सीएस डीबी गुप्ता और डीजीपी कपिल गर्ग समेत एसीएस होम और अन्य आला अधिकारी मौजूद रहे।

सीएम ने फिर से गुर्जर समाज से शांति की अपील करते हुए कहा कि सरकार वार्ता के लिए तैयार है। आंदोलन करना अलग बात है लेकिन रेल की पटरी पर बैठना ठीक नहीं है। गुर्जरों को वार्ता के लिए आगे आना चाहिए। पहले भी गुर्जर समाज वार्ता के लिए आगे चलकर आए थे तो वार्ता हुई थी। सरकार इनका आदर करती है। जब भी गुर्जर वार्ता के लिए आगे आए, फैसले अच्छे हुए हैं। आंदोलन के दौरान धौलपुर में आंदोलनकारियों और पुलिस के बीच हुए पथराव, फायरिंग और आगजनी की घटना के बाद गुर्जर बाहुल्य करौली जिले में भी धारा 144 लगा दी गई है। जिले में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाडिय़ा ने धारा-144 लागू किए जाने के आदेश जारी किए। इससे पूर्व गुर्जरों के महापड़ाव स्थल मलराना डूंगर क्षेत्र और दौसा जिले में धारा-144 लगाई जा चुकी है।