झारखंड: हेमंत सोरेन- मेरे प्यारे झारखंडवासियों! आप सभी को दिवाली, काली पूजा और छठ पूजा की अनेक-अनेक शुभकामनाएं और जोहार

0
244
हेमंत सोरेन
मेरे प्यारे झारखंडवासियों!
आप सभी को दिवाली, काली पूजा और छठ पूजा की अनेक-अनेक शुभकामनाएं और जोहार. साथियों, इस वर्ष हमारा राज्य अपने 20 साल भी पूरे करने जा रहा है. भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर मनाये जानेवाले राज्य स्थापना दिवस पर मैं भगवान बिरसा को शत-शत नमन कर, आप सबको हार्दिक शुभकामनाएं और जोहार करता हूं.
झारखंडी अधिकारों की प्राप्ति के लिए वीर शहीदों और क्रांतिकारियों के बलिदान व उलगुलान के उद्घोष ने जो अलख जलाया, वह अलग राज्य के निर्माण में आंदोलनकारियों के खून-पसीने की खुशबू से अब भी महक रहा है. सन 2000 में झारखंड अलग राज्य बना. कई उतार-चढ़ाव और खट्टी-मीठी यादों के साथ हमारे राज्य ने यहां तक का सफर पूरा किया है. आज हमारा राज्य अपने 20 साल पूरे कर रहा है.
यह युवा झारखंड कई संघर्षों और सफलताओं के साथ आज आगे की ओर अग्रसर है. ‘युवा’ शब्द वैसे भी संकल्प, शक्ति, बदलाव व विकास जैसे प्रगतिसूचक शब्दों का मालिक माना जाता है. किसी भी समाज एवं देश में बदलाव की इबारत युवा शक्ति द्वारा ही लिखी गयी है.
जरूरत होती है उसे गति देने की, गति के साथ-साथ दिशा देने की, एक वातावरण देने की. आज युवा झारखंड भी अपनी युवा शक्ति के सक्रिय सहयोग से ऐसे वातावरण के निर्माण के लिए संकल्पित हो, जहां आदिवासी-मूलवासी, गरीब, अल्पसंख्यक व पिछड़ा समाज, सभी झारखंडियों के साथ अपने उज्ज्वल भविष्य का ताना-बाना बुन सकें. जो सपना देखें, वह साकार हो सके. झारखंडी अधिकारों की रक्षा हो सके. झारखंड खुद अपने पैरों पर खड़ा हो सके.
आदरणीय दिशोम गुरुजी शिबू सोरेन और अन्य महान क्रांतिकारियों के सपनों का झारखंड बन सके. यह सब संभव है. युवा, नौजवान, महिला, किसान, बुजुर्ग और बच्चे सभी की आकांक्षाओं और अभिलाषाओं को पूरा करने की ओर आपकी झारखंडी सरकार आगे बढ़ रही है. यह जरूर सच है कि सरकार बनते ही कोरोना ने सरकार की प्राथमिकताओं को बदल दिया. ‘सिर मुंड़ाते ही ओले पड़ने’ जैसी बात हो गयी. लेकिन यह भी सच है कि सीमित संसाधनों के बीच भी आप सबके सार्थक सहयोग से हम अपने राज्य को विकास की दिशा में संवेदनशील होकर बड़ी गंभीरता से क्रियाशील होकर आगे बढ़ रहे हैं.
नौकरी/रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य, खेल, पर्यटन, आधारभूत संरचनाओं का विकास और महिला सुरक्षा एवं कुपोषण से मुक्ति मेरे मुख्य उद्देश्यों में से कुछ हैं. आपके आशीर्वाद, आपके स्नेह और आपके साथ से हम बाधाओं को पार कर 20 साल के युवा झारखंड को एक नयी शक्ति और ऊर्जा प्रदान करेंगे. जन-भागीदारी के साथ, जन-आकांक्षाओं की पूर्ति के लिए आपकी जन कल्याणकारी झारखंडी सरकार नयी सोच, नया विचार एवं नये संकल्प के साथ हमेशा तत्पर और क्रियाशील है.(UNA)