धनबाद के जज उत्तम आनंद मौत मामला CBI के हवाले, झारखंड सरकार ने की सिफारिश, CCTV फुटेज में छिपे हैं कई राज़?

0
40

झारखंड ; धनबाद के जज उत्तम आनंद मौत मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी गई। झारखंड सरकार ने मामले की जांच सीबीआई के सुपुर्द कर दी है। इस संबंध में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को अनुशंसा कर दी।
28 जुलाई को मॉर्निंग वॉक के दौरान हुई थी घटना
28 जुलाई की सुबह धनबाद में मॉर्निंग वॉक के दौरान एक ऑटो के धक्के से संदिग्ध हालात में जज उत्तम आनंद की मौत हो गई थी। झारखंड पुलिस ने मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए घटना में शामिल ऑटो और उसके चालक को धर दबोचा था। मुख्यमंत्री की पहल पर मामले की जांच और दोषियों को दबोचने के लिए एसआईटी का गठन किया गया था।
परिजनों ने सरकार के फैसले पर जताया था संतोष
दिवंगत न्यायाधीश उत्तम आनंद के परिजनों ने एक दिन पहले मुख्यमंत्री से भी मुलाकात की थी। मुख्यमंत्री ने इस दुखद घटना के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की थी। उन्होंने कहा था कि सरकार इस दुख की घड़ी में उनके साथ है। उन्होंने परिजनों से कहा था कि मामले की जांच को लेकर राज्य सरकार गंभीर है। जितना जल्दी हो सके इस घटना की जांच हो। परिजनों को न्याय मिले, ये राज्य सरकार की प्राथमिकता है।
CCTV फुटेज ने ‘साजिश’ को बेपर्दा किया?
राज्य सरकार ने मामले की जांच के लिए एसआईटी की टीमें बनाई थी। जो अलग-अलग एंगल से मामले की तफ्तीश में जुटी भी है। पहले ये मामला दुर्घटना लग रहा था लेकिन बाद में सामने आए सीसीटीवी फुटेज को देखकर हर कोई हतप्रभ रह गया। सीसीटीवी फुटेज में साफ नजर आया कि जज को एक ऑटो से टक्कर मारी गई थी। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए गिरिडीह से ऑटो के साथ एक शख्स को गिरफ्तार किया। साथ ही स्टेशन से एक अन्य आरोपी को भी पुलिस ने पकड़ा। सुप्रीम कोर्ट ने भी इस मामले पर राज्य के डीजीपी और सचिव से रिपोर्ट तलब की है।