नई दिल्ली: केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों पर चल रहे सियासी घमासान पर अपनी प्रतिक्रिया दी

0
5

नई दिल्ली: केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों पर चल रहे सियासी घमासान पर अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा अंतरराष्ट्रीय बाजारों में कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी के चलते पेट्रोल और डीजल की उपभोक्ता मूल्य में बढ़त देखने को मिल रही है. यह धीरे-धीरे कम हो जाएगा. बकौल प्रधान, Covid-19 के कारण कच्चे तेल की वैश्विक आपूर्ति में कमी आई है. जिसके कारण इसका उत्पादन भी प्रभावित हुआ है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम GST काउंसिल से लगातार पेट्रोलियम उत्पादों को इसके दायरे में शामिल करने का अनुरोध कर रहे हैं क्योंकि इससे लोगों को फायदा होगा, लेकिन शामिल करना है या नहीं, ये फैसला काउंसिल ही ले सकते हैं.
बढ़ते दामों पर कुमार विश्वास ने किया ट्वीट- प्रिय पेट्रोल…, फूफाओं का योगदान कभी न भूलना बेटा
इस मौके पर उन्होंने सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) पर निशाना साधा. धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि सोनिया गांधी को पता होना चाहिए राजस्थान और महाराष्ट्र की सरकार ने टैक्स के माध्यम से सबसे ज्यादा कमाई की. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान केंद्र और राज्य सरकारों की कमाई नगण्य रही. हमने नौकरियां बढ़ाने के लिए बजट का एक बड़ा हिस्सा अलग अलग सेक्टरों को दे दिया. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सोनिया गांधी ने पिछले दिनों केंद्र सरकार को पत्र लिख पेट्रोल डीजल के दाम करने की अपील की थी. अपने पत्र नें कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम मोदी को ‘राजधर्म’ दिलाया था. धर्मेंद्र प्रधान का टिप्पणी इसी पत्र के जवाब में देखी जा रही है.
बताते चलें कि देश में कई जगहों पर पेट्रोल के दाम 100 के पार पहुंच गए हैं. लेकिन बढ़ोतरी के बीच कीमतों में कटौती के कहीं आसार नहीं दिख रहे हैं. हां, पिछले दो दिनों तक ईंधन तेल के दाम स्थिर थे, लेकिन मंगलवार यानी 23 फरवरी, 2021 को आज फिर पेट्रोल-डीजल के दामों में आग लग गई है. ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने आज फिर तेल के दाम बढ़ा दिए हैं. आज पेट्रोल के दामों में 35 से 38 और डीजल के दामों में 34 से 35 पैसों की बढ़ोतरी की गई है. बता दें कि देश के सभी बड़े शहरों में पेट्रोल 90 रुपए प्रति लीटर के पार चल रहा है.