नेशनल हाईवे से लागने वाली 900 मीटर लंबी ग्रामीण सड़क नहीं बनने से ग्रामीणों में भारी आक्रोश

1
102

सड़क बनने से नेशनल हाईवे की दूरी कम होगी

भभुआ—एनएच2 से जोड़ने वाली ग्रामीण सड़क मात्र 900 मीटर लंबी है लेकिन इसकी हालत इतनी खस्ता है कि सैकड़ों गांव के लोगों का मुख्य मार्ग पर पहुँचना जोखिम भरा है। इस उक्त मार्ग से वाराणसी, मुगलसराय, मोहनिया, पुसौली, कुदरा, सासाराम, डेहरी, गया तक लोग दवा एवं बाजार नियमित करने जाते हैं। बताया जाता है कि मोहनिया विधानसभा के तत्कालीन विधायक सुरेश पासी द्वारा सत्र 2004 में इस मार्ग पर खड़ंजा बिछाया गया था।यह सड़क बनने से मोहनिया प्रखंड के ग्राम पंचायत अमेठ एवं भभुआ प्रखंड के ग्राम पंचायत कैथी को जोड़ने का कार्य करेगा। ग्रामीणों ने बताया कि पुल का निर्माण हो चुका है लेकिंग मात्र 900 मीटर सड़क नहीं बनने के कारण दो पहिया, चार पहिया प्रतिदिन दुर्घटना के शिकार होते रहते हैं। यह मार्ग सोनहन वाया पुसौली, पुसौली से बारे रामपुर, बिशनपुरा, बगईचा, पट्टी नाटी, कैथी, पंची, रामपुर मुख्य मार्ग भभुआ मोहनिया पथ को जोड़ने का कार्य करता है। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि सांसद, विधायक, पंचायत प्रतिनिधि एवं जिला प्रशासन को कई बार लिखित एवं मौखिक शिकायत करने के बावजूद भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं करने के कारण जनता में आक्रोश व्याप्त है। स्थानीय समाजिक कार्यकर्ता कामेश्वर पति का स्पष्ट कहना है कि रामपुर नदी पर पुल बनाने से सैकड़ों गांवों को मुख्य मार्ग से जोड़ दिया गया है मात्र 900 मीटर तक सड़क नहीं बनने के कारण कई लोग बेवजह घटना दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं जबकि जिला प्रशासन को घायल या मृतक परिजनों को आर्थिक मुआवजा आश्रित परिवार को देना पड़ता है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि नागरिकों की सुरक्षा करना उनका दायित्व है।

विनोद कुमार राम की रिपोर्ट

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here