नेहरू पार्क में आयोजित दो दिवसीय विलक्षण योग शिविर

0
42
योगा कैंप

UNA NEWS
HARYANA BUREAU

सिरसा।।(सतीश बंसल)
दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान द्वारा आरोग्य प्रकल्प के अंतर्गत स्थानीय नेहरू पार्क में आयोजित दो दिवसीय विलक्षण योग शिविर के अंतिम दिन संस्थान द्वारा आशुतोष महाराज के शिष्य योगाचार्य स्वामी विज्ञानानंद ने कहा कि इस बार विश्व पर्यावरण दिवस का थीम सिर्फ एक पृथ्वी रहा। परन्तु दु:ख का विषय है कि जिस धरती को मां कह कर संबोधित किया जाता है उसी धरती पर सृष्टि का सिरमौर कहे जाने वाले मानव द्वारा आधुनिकतावाद और विकासवाद की अंधी दौड़ में प्राकृतिक संसाधनों का अंधाधुंध दोहन हो रहा है, जिसमें वनस्पति जगत पतन के कगार पर है। भूमिगत जल संसाधनों के विकास पर बल देते हुए स्वामी ने उपस्थित जनसमूह को अपने भारत की पवित्र नदियों की स्वच्छता व जल संरक्षण की प्रेरणा देते हुए अधिक से अधिक पौधारोपण करने की प्रेरणा दी, संस्थान की ओर से उपस्थित योग साधकों को जहां अत्यधिक ऑक्सीजन प्रदायक व उचित गुणवत्ता वाले पौधे भी वितरित किये गए। वहीं उक्त पार्क में ही क्षेत्रवासियों के साथ मिल कर पौधारोपण भी किया गया। ध्यान देने योग्य है कि संस्थान द्वारा पर्यावरण विकास की ओर उन्मुख अपने संरक्षण प्रकल्प के अंतर्गत अधिक से अधिक पौधे लगा कर उनका संरक्षण भी किया जाता है। इसी के साथ कार्यक्रम के अंत में सभी प्रकृति प्रेमियों ने जल संसाधनों के संरक्षण और संवर्धन, पौधरोपण करने, सम्पूर्ण वनस्पति जगत के विकास करने व स्वच्छ भारत का निर्माण करने का सामूहिक संकल्प भी लिया। स्वामी ने साधकों को कब्ज से संबंधित रोगों से बचाव के लिए प्राणायाम एवं यौगिक क्रियाओं में सूर्य नमस्कार, नाड़ी तानासन, सूर्यभेदी प्राणायाम, अर्धचंद्रासन, भस्त्रिका प्राणायाम, चन्द्रभेदी प्राणायाम, कपालभाति, द्विचक्रिकासन, पवनमुक्तासन, अनुलोम विलोम प्राणायाम आदि का अभ्यास करवाते हुए इनके दैहिक लाभों से परिचित भी कराया। कार्यक्रम का शुभारंभ और पौध वितरण में सहयोग अखिल भारतीय सेवा संघ की ओर से अश्विनी बंसल, राजेश बंसल, इंद्र गोयल, संजीव मेहता, राजेश तनेजा, राजेंद्र राठी, अमर सिंह, नरेंद्र सिंह, सुरेश सिंगला व राजेश दुआ द्वारा ज्योति प्रज्वलित कर किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here