विधानसभा में सोमवार को उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि राज्य सरकार  विभिन्न विभागों में कार्यरत डाटा इंट्री ऑपरेटरों का मानदेय भुगतान हर महीने की पांच तारीख को सुनिश्चित कराएगी।

कांग्रेस विधायक शकील अहमद खां के तारांकित प्रश्न पर श्री मोदी ने कहा कि सरकार के विभिन्न विभागों में 7694 डाटा एंट्री ऑपरेटर कार्यरत हैं। इनकी सेवाएं आउटसोर्सिंग के माध्यम से बेल्ट्रॉन ने विभागों को उपलब्ध करायी हैं। फिलहाल मानदेय भुगतान की प्रक्रिया यह है संबंधित विभाग मानदेय की राशि बेल्ट्रॉन को उपलब्ध कराती है। बेल्ट्रॉन एजेंसी को और तब एजेंसी ऑपरेटरों को भुगतान करती है। कहा कि वह इस प्रक्रिया में बदलाव करेंगे ताकि समय पर भुगतान हो सके।

एक पूरक सवाल पर मोदी ने कहा कि मानदेय पर कार्यरत डाटा एंट्री ऑपरेटरों की सेवा नियमित करने का तत्काल कोई प्रस्ताव सरकार के पास विचाराधीन नहीं है। इससे भी इनकार किया कि ये संविदाकर्मी हैं। कहा कि तीन साल के लिए इन्हें रखा जाता है। हर साल तीन फीसदी की वेतन वृद्धि की जाती है