पटना-नवनिर्वाचित सांसद अपने क्षेत्र में जाएं, लोगों से मिलें : CM नीतीश

0
21

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी नवनिर्वाचित सांसदों से कहा कि दिल्ली में शपथ ग्रहण के बाद वे अपने क्षेत्र में जाकर घूमें। जहां से वोट मिला या जहां से नहीं मिला सभी जगह जाएं। लोगों से मिलने-जुलने में निरंतरता बनाए रखें। जनता से इस जुड़ाव को प्रगाढ़ बनाएं।

बिहार में एनडीए को मिली बड़ी जीत के बाद मुख्यमंत्री सह जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार शुक्रवार को पार्टी दफ्तर पहुंचे। उनके पार्टी कार्यालय पहुंचने की सूचना मिलते ही पार्टी नेता, कार्यकर्ता और नवनिर्वाचित सांसदों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। उमड़े कार्यकर्ताओं में मुख्यमंत्री को बधाई और गुलदस्ता देने की होड़ सी मची रही।

इससे पूर्व पूर्वाह्न करीब साढ़े ग्यारह बजे मुख्यमंत्री जदयू कार्यालय पहुंचे। प्रदेश अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह के साथ जीत की खुशी से गदगद नीतीश कुमार सबकी बधाई स्वीकारते रहे। उनसे बधाई व शुभकामनाओं का आदान-प्रदान करने भाजपा के नवनिर्वाचत सांसद रविशंकर प्रसाद, रामकृपाल यादव, डॉ. संजय जायसवाल, जदयू के चंदेश्वर प्रसाद चन्द्रवंशी, कौशलेन्द्र कुमार, विजय मांझी और मुंगेर से जीते राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह पहुंचे। मुख्यमंत्री ने सबों को बधाई दी। मिठाइयां बांटी गयीं। नीतीश कुमार के जयकारे भी लगे। इस दौरान जदयू मुख्यालय में एमएलसी दिलीप चौधरी, विजय कुमार मिश्रा, संजय गांधी, प्रदेश जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह, विधायक अभय कुशवाहा, नवीन आर्या, अनिल कुमार, अरविंद कुमार उर्फ छोटू सिंह, नंदकिशोर कुशवाहा, ओमप्रकाश सेतु, मुकेश कुमार सिंह समेत बड़ी संख्या में नेता-कार्यकर्ता मौजूद रहे। बाहुबली विधायक अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी को पराजित कर मुंगेर सीट जीतने वाले ललन सिंह ने मीडिया से एक सवाल पर कहा कि जनता सबसे बड़ी बाहुबली है। मुंगेर की यह जीत जनता की जीत है। विकास कार्यों की जीत है। नीतीश कुमार और नरेन्द्र मोदी की जीत है।

नीतीश दलितों के सबसे बड़े नेता : मांझी
वहीं, गया से जीते विजय कुमार मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार दलितों के सबसे बड़े नेता हैं। जीतन राम मांझी पर बरसते हुए कहा कि वे क्या थे, नीतीश कुमार ने उन्हें सीएम की कुर्सी तक पहुंचा दिया पर उन्होंने दगा किया। गया की जनता ने उन्हें सबक सिखा दिया है। वहीं जहानाबाद से कड़े मुकाबले में जीते चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी ने कहा कि यह उनके नेता नीतीश कुमार और जदयू की जीत है। उनकी जीत एनडीए के सम्यक प्रयासों का नतीजा है। जहानाबाद की जनता के उम्मीदों पर खरा उतरने की वे भरदम कोशिश करेंगे।