पटना, बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) के नतीजे आ चुके हैं

0
112

पटना, बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) के नतीजे आ चुके हैं। इसके बाद राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में जश्‍न तो महागठबंधन (Mahagathbandhan) सहित अन्‍य विपक्षी गठबंधनों व दलों में निराशा का माहौल है। एनडीए में सरकार गठन की कवायद भी शुरू हो चुकी है। ऐसे में बुधवार का दिन गहमा-गहमी भरा रहेगा, यह तय है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृहमंत्री अतिम शाह सहित कई नेताओं ने एनडीन की जीत पर जनता का आभार प्रकट किया है।
11:00 AM: बीजेपी नेता प्रेमरंजन पटेल ने कहा कि एनडीए एकजुट है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के अभी तक मीडिया के सामने नहीं आने को लेकर कहा कि यह कोई खास बात नहीं है।
10:30 AM: बीजेपी नेता व केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि आवैसी का जीतना सांप्रदायिक सद्भाव को खतरा है। इसपर नजर रखनी होगी। दिग्विजिय सिंह के नीतीश कुमार के बीजेपी के अमरबेल में फंसने के बयान पर प्रतिक्रिश देते हुए कहा कि कांग्रेस खुद अपने अमरबेल में फंस गई है।
10:00 AM: सरकार के स्‍वरूप को लेकर कुछ देर बार बीजेपी की बैठक हो रही है। बीजेपी इस बार एनडीए में बड़ा भाई की भूमिका में है। ऐसे में पार्टी में अधिक मंत्रियों की मांग हो सकती है।
09:30 AM: माना जा रहा है कि आज एनडीए के नेता सामूहिक रूप से जीत के लिए जनता को धन्‍यवाद दे सकते हैं। इसमें मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार सहित एनडीए के तमाम बड़े नेता मौजूद रहेंगे।
09:00 AM: बीजेपी अमरबेल के समान है। जिस पेड़ से लिपटती है, वह सूख जाता है। आप तेजस्‍वी को आशीर्वाद दे दीजिए। जवाब में बीजेपी प्रवक्‍ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि दिग्‍विजय सिंह के बयान को उनकी पार्टी ही महत्‍व नहीं देती तो हम क्‍यों दें?
08:30 AM: कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने बिहार चुनाव में फर्जीवाड़ा का आरोप लगाया है। उन्‍होंने कहा कि किशनगंज से कांग्रेस उम्मीदवार को 1,266 मतों से जीतने के बावजूद जीत का प्रमाण पत्र नहीं दिया गया। इसी तरह सकरा में 600 मतों से जीते कांग्रेस उम्मीदवार को 1,700 मतों के हारा हुआ करार दिया गया।
08:00 AM: बिहार में जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर जनता का आभार जताया है। लिखा है कि बिहार में जनता के आशीर्वाद से लोकतंत्र ने फिर विजय प्राप्त की है। गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया है कि बिहार ने खोखलेवादे, जातिवाद और तुष्टिकरण की राजनीति को नकार दिया है। साथ ही एनडीए के विकासवाद का परचम लहरा दिया है। उन्‍होंने लिखा है कि यह बिहार के लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं की जीत है।(UNA)