पटना, विवाहित महिलाएं आज अपने पति की सलामती के लिए करवा चौथ का व्रत कर रही हैं

0
135

पटना, विवाहित महिलाएं आज अपने पति की सलामती के लिए करवा चौथ का व्रत कर रही हैं। आज व्रती महिलाएं भगवान शिव, माता पार्वती व कार्तिकेय के साथ-साथ भगवान गणेश की पूजा करेंगी और व्रत की कथा सुनेंगी। शाम को विधिवत ढंग से आरती के बाद चंद्रमा के दर्शन करेंगी और उनको अर्घ्य अर्पण करने के बाद व्रत का पारण करेंगी। आचार्य राकेश झा ने बताया कि चतुर्थी पर चंद्र दर्शन रात्रि 8.45 बजे होगा। इसके बाद ही पूजा-पाठ के बाद अर्घ्य अर्पण के साथ ही व्रत का समापन होगा।
पूजा से पहले सज-धजकर होंगी तैयार
करवा चौथ का व्रत कठोर होता है। व्रती महिलाएं आज पूरे दिन बगैर अन्न और जल ग्रहण किए ही रहेंगी। व्रती महिलाएं हाथों पर मेंहदी रचाएंगी और नए वस्त्र एवं आभूषण धारण करके 16 श्रृंगार करेंगी। पूजा से पहले व्रती पूरी तरह सज-धजकर तैयार होंगी।
आज नया निवेश करना रहेगा शुभ
आज व्रत के दौरान सर्वार्थ सिद्धि व शिव योग का सुखद संयोग है। इस योग में पूजा-अर्चना से विघ्नहर्ता गणेश के साथ भगवान भोलेनाथ की कृपा बरसेगी। मान्यता है कि इस दिन भगवान गणपति की पूजा करने से संकट दूर हो जाते हैं। इसीलिए इस तिथि को संकष्टी गणेश चतुर्थी की संज्ञा दी गई है। इस दिन नया निवेश, आभूषण की खरीदारी और वाहन खरीदना शुभ रहेगा।
छलनी के बीच करेंगी पति का दीदार
व्रती महिलाएं दिनभर व्रत रखने के बाद शाम को नए वस्त्र में श्रृंगार करके पूजन करेंगी। रात में चांद को छलनी से दीप के साथ देखेंगी। पति को देखते हुए चंद्रमा को अर्घ्य प्रदान करेंगी। अर्घ्य में दूध, शहद, मिश्री और नारियल प्रदान किया जाएगा। धार्मिक मान्‍यता के अनुसार चंद्रमा की पूजा से मन को शांति मिलती है। इस दिन भगवान विष्णु और धन की देवी माता लक्ष्मी की आराधना करने से अचल संपत्ति, धन-धान्य के अलावे दांपत्य सुख का आशीर्वाद मिलता है।(UNA)