पटना, । चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) ने लंबे समय के बाद चुप्‍पी तोड़ी है। पार्टी एक बार फिर सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish) के खिलाफ हमलावर है।

0
136

पटना, । चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) ने लंबे समय के बाद चुप्‍पी तोड़ी है। पार्टी एक बार फिर सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish) के खिलाफ हमलावर है। इस बार पार्टी ने जदयू (JDU) के आरोपों का जवाब दिया है। लोजपा में संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष राजू तिवारी (Raju Tiwari) ने जदयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी (KC Tyagi) को पत्र लिखा है। लोजपा ने पत्र में कहा है कि बिहार चुनाव में जदयू के ज्यादा सीटों पर चुनाव लडऩे के कारण एनडीए (NDA) का बुरा प्रदर्शन हुआ। नीतीश कुमार बड़ा भाई बन कर प्रदेश में राज करना चाहते थे। इसलिए अपनी औकात से ज्‍यादा सीटों की मांग की।

बता दें कि विधान सभा चुनाव के बाद जदयू के नेताओं ने हार की मंथन के दौरान खुलकर कहा था कि लोजपा ने हमारी पीठ में छुरा घोंपा है। उनके प्रत्‍याशियों की वजह से महागठबंधन (Grand Alliance) को फायदा हुआ और जदयू को भारी नुकसान उठाना पड़ा। पिछले चुनाव में जदयू को 71 सीटें मिली थी जबकि इस बार लोजपा के कारण जदयू मात्र 44 सीटों पर सिमट गई।

राजू तिवारी ने पत्र में लिखा है कि चिराग पासवान अपने बीमार पिता के इलाज और सेवा में जुटे थे जिसे देखकर जदयू लोजपा को मात्र 15 सीटें देना चाहती थी। राजद (RJD) के साथ 101 सीटों पर चुनाव लडऩे वाले नीतीश कुमार भाजपा (BJP) से 122 सीटें लेकर चुनाव लड़े। यह लालच का प्रतीक है। नीतीश कुमार के लालच और अहंकार के कारण हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (HAM) और विकासशील इंसान पार्टी (VIP) को भी भुगतना पड़ा।
चिराग पासवान ने विधान सभा चुनाव के बाद लोजपा की बैठक में अपने नेताओं को निर्देश दिया था कि छह महीने तक वे लोग सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ कुछ नहीं बोलेंगे। जदयू ने लोजपा पर विश्‍वासघात के आरोप लगाए तब भी लोजपा चुप रही। अब जाकर पार्टी ने चुप्‍पी तोड़ी है।