पटना

0
201

पटना-फिर पीएम बना तो बिहार में बहेगी विकास की गंगा : मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पूर्वी क्षेत्र की तरक्की के बगैर देश का विकास नहीं हो सकता।  बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, ओडिशा आदि राज्यों का विकसित होना जरूरी है। दुबारा प्रधानमंत्री बना तो बिहार में विकास की गंगा बहेगी। अभी चुनाव प्रचार करने आ रहा हूं। सरकार बनने के बाद नए कार्यकाल में पीएम बनने पर जो वादा किया है, उसे पूरा करने और नई परियोजनाओं को लेकर बिहार आऊंगा।

मौजूदा लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री ने बुधवार को बिहार में दसवीं व अंतिम चुनावी सभा पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र के पालीगंज कृषि फॉर्म में की। केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव के साथ ही पटना साहिब के रविशंकर प्रसाद और जहानाबाद के एनडीए प्रत्याशी चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी के पक्ष में आयोजित इस सभा में प्रधानमंत्री ने बिहार को विकसित करने के साथ ही विरोधियों पर जातिवादी राजनीति करने का आरोप लगाते हुए प्रहार किया। मगही में लोगों का अभिवादन कर सभा की शुरुआत करने वाले पीएम ने कहा कि महामिलावटी गठबंधन दिल्ली में मजबूर सरकार चाहता है। वे घोर नकारात्मकता के साथ चुनाव लड़ रहे हैं। वे हमारी छवि खराब कर रहे हैं। हमें हटाना चाहते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि सीएम-पीएम पद पर दो दशक तक काम किया है। जनता से मिले प्यार को प्रसाद समझा, इसलिए इसकी पवित्रता को बचाए रखा। लेकिन महामिलावटी के नेताओं को जैसे ही सत्ता मिलती है, वे उसे लूटने का अवसर बना देते हैं। अपने और अपने परिवार के लिए काम करते हैं। इनके लिए राष्ट्र या प्रदेश कोई मायने नहीं रखता। कांग्रेस का नामदार परिवार हो या बिहार का भ्रष्ट परिवार, संपत्ति बनाना ही इनका मकसद है। इन्हें गरीब या देश की परवाह नहीं। अगर देश की परवाह होती तो भ्रष्टाचार करने से पहले इनके हाथ कांपते। बिहार के यादवों को अपनी ओर गोलबंद करने की कोशिश करते हुए पीएम ने कहा कि मैं तो उस नगरी से आता हूं जहां के द्वारकाधीश हैं। विकास हो या राष्ट्र की सुरक्षा, चक्रधारी भगवान श्रीकृष्ण मेरे प्रेरणा स्रोत हैं। राजद-कांग्रेस पर हमला करते हुए पीएम ने कहा कि देश और बिहार की कौन कहे, जिस जाति के नाम पर राजनीति की, उसके लिए भी कुछ नहीं किया। जिन लोगों ने दशकों तक भरोसा किया, उन्हें विश्वासघात के सिवाए दिया ही क्या। जिस जाति के नाम पर राजनीति की, उस जाति से पार्टी चलाने के लिए कोई नहीं मिला। क्या परिवार को छोड़ पार्टी चलाने की योग्यता किसी में नहीं है। जिस जाति और समाज ने आंख बंद कर अरबों-खरबों का मालिक बनाया, उनके साथ ही धोखा दिया। जाति के होनहार नौजवानों को भ्रमित कर दबंगई करवाई। जाति को बंधक बना लिया। पशुपालक समाज के लिए कुछ नहीं किया। लेकिन अब बिहार और देश बदल रहा है। मोदी राज में देश का हर व्यक्ति भारतीय  है और हर क्षेत्र का विकास हो रहा है। पीएम ने कहा कि सबका साथ-सबका विकास की नीति पर ही गरीब सवर्णों को दस फीसदी आरक्षण दिया। महामिलावट के विरोध के बावजूद ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया। 21वीं सदी का युवक एनडीए की ओर आशाभरी निगाहों से देख रहा है। मेट्रो, सड़क, बिजली, रेलवे के विद्युतीकरण, एम्स को देख, उसमें विकास को लेकर आशा जगी है। डिजिटल इंडिया के कारण दुनिया में सबसे सस्ता इंटरनेट भारत में उपलब्ध है। बिहार के युवा दिल्ली में कोचिंग करने के बजाए प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध मुफ्त वाई-फाई से सिलेबस की तैयारी कर यूपीएससी सहित अन्य परीक्षा पास कर रहे हैं। सरकार के कार्यों का उल्लेख करते हुए पीएम ने कहा कि हम विकास में यकीन रखते हैं। किसानों के खाते में सीधे पैसे भेजे जा रहे हैं। खेतों में अनाज उत्पादन के साथ ही सौर ऊर्जा उत्पादित की जाएगी। साल 2022 तक किसानों की आय दोगुनी कर दी जाएगी।  किसान क्रेडिट कार्ड को पशुपालकों से जोड़ा गया है। मछली के लिए अलग विभाग बनाया जा रहा है।