प्रयागराज: वकीलों की ड्रेस पहनाकर अपराधियों को कोर्ट में सरेंडर कराने पर यूपी बार काउंसिल ने सख्त रुख अपना लिया

0
5

वकीलों की ड्रेस पहनाकर अपराधियों को कोर्ट में सरेंडर कराने पर यूपी बार काउंसिल ने सख्त रुख अपना लिया है. बार काउंसिल ने ऐसे वकीलों को दी सख्त हिदायत देते हुए कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है. बार काउंसिल ऑफ यूपी के चेयरमैन जानकी शरण पाण्डेय ने प्रेस नोट जारी कर ये जानकारी दी है.
वकीलों की सदस्यता सस्पेंड या रद्द की जा सकती है- यूपी बार काउंसिल ने कहा कि काला कोट पहनाकर अपराधियों को सरेंडर कराना पूरी तरह गलत है ऐसा करने वाले वकीलों के खिलाफ की जाएगी अब कड़ी कार्रवाई जाएगी. काउंसिल ने आगे कहा कि ऐसा करने वाले वकीलों की सदस्यता सस्पेंड या रद्द की जा सकती हैं या फिर प्रैक्टिस पर रोक भी लगाई जा सकेगी.पुलिस और प्रशासन की नजरों से बचाने के लिए ऐसा कर रहे थे कुछ वकील, काउंसिल को अपराधियों को वकीलों की ड्रेस पहनाकर में कोर्ट में सरेंडर कराए जाने की लगातार शिकायत मिल रही थी. पुलिस और प्रशासन की नजरों से बचाने के लिए कुछ वकीलों द्वारा यह कृत्य किया जा रहा था. काउंसिल ने कहा ऐसे वकीलों द्वारा अपराधियों से सरेंडर के नाम पर अवैध वसूली की जा रही है. प्रदेश भर के जिला बार एसोसिएशन व अधिवक्ता संगठनों से विचार विमर्श के बाद यूपी बार काउंसिल ने सख्त फैसला लिया है. काउंसिल ने सभी पीठासीन अधिकारियों व बार एसोसिएशन से इस तरह की सूचना से अवगत कराने को कहा है. वकीलों की ड्रेस पहनने वाले अपराधियों की भी सम्बंधित कोर्ट में शिकायत की जाएगी.(UNA)