फर्जी हस्ताक्षर मामले में पुलिस द्वारा ई.ओ. नगरपरिषद् को नोटिस जारी

13
160

सिरसा 4 दिसम्बर – नगरपरिषद् सिरसा द्वारा शहर में 167.5 करोड़ रूपये की लागत से चल रहे पार्कों व निर्माणाधीन गलियों के निर्माण स्थल पर सूचना बोर्ड लगाये जाने की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी का लघु सचिवालय में राष्ट्रीय परिषद के सदस्य एवं जिलाध्यक्ष विरेन्द्र कुमार के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन धरना 24 वें दिन भी जारी रहा। आज के धरने के संचालन सिरसा हल्का अध्यक्ष हंसराज सामा एवं सचिव हरबंस लाल ने संयुक्त रूप से किया। जिलाध्यक्ष विरेन्द्र कुमार ने कहा कि नगरपरिषद् द्वारा किए जा रहे कथित भ्रष्टाचार के खिलाफ शिकायतों को फर्जी हस्ताक्षर कर सी.एम. विंडो पर अपलोड करके गली निर्माण में धांधली से सम्बन्धित शिकायत को बंद किया गया मामला पुलिस अधीक्षक द्वारा जांच के लिए खैरपुर चौकी में भेजा गया। खैरपुर चौकी पुलिस द्वारा शिकायतकर्ता रमेश पुरी व नगर परिषद् को गत दिवस चौकी में अपना पक्ष रखने के लिए तलब किया गया। इस दौरान रमेश पुरी के साथ आम आदमी पार्टी के पदाधिकारी भी मौजूद थे तथा नगरपरिषद् के अधिकारी भी अपना पक्ष रखने के लिए मौजूद थे, परन्तु नगरपरिषद् के ई.ओ. जांच में शामिल नहीं हुए। दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद जांच अधिकारी ने नगर परिषद् के ई.ओ. को पुलिस के समक्ष अपना पक्ष रखने बारे नोटिस जारी किया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि रमेश पुरी जैसे हजारों शिकायतकर्ताओं की शिकायतों को नगर परिषद् द्वारा दबाया हआ है, यह एक मामला नहीं है, जांच के बाद ऐसे न जाने कितने और मामले सामने आएंगे। यह रमेश पुरी का व्यक्तिगत मामला नहीं है, यह पूरे सिरसा शहर का मामला है और निष्पक्ष जांच ही शहर में चल रहे 167.5 करोड़ के फर्जी विकास करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ करेगी। जिलाध्यक्ष विरेन्द्र कुमार ने कहा कि भाजपा सरकार ईमानदारी और पारदर्शिता के ढिंढोरे पीटते नही थकती, दूसरी तरफ सिरसा में 167.5 करोड़ रूपये का विकास केवल कागजों में ही दिखा कर तिजोरियां भरने का काम चल रहा है। ये काम कुछ अधिकारियों द्वारा नहीं हो सकता जबकि पूरी भाजपा-जजपा सरकार इसमें शामिल है। भाजपा सरकार की करनी और कथनी में दिन-रात का फर्क है। सिरसा के विकास के लिए 167.5 करोड़ रूपये आए थे और इस पैसे का नगरपरिषद् और जिला प्रशासन के अधिकारियों ने कथित तौर पर मिलकर गबन किया है। जिन गलियों का करार 3 से 5 साल का था, वो गलियां एक से दो महीने में ही टूट गई, आम आदमी पार्टी का अनिश्चितकालीन धरना लघु सचिवालय में सिरसा शहर में 167.5 करोड़ रूपये के चल रहे विकास कार्यों में सूचना के बोर्ड लगाने की मांग को लेकर जारी है। आम आदमी पार्टी नागरिकों को जागरूक करने के लिए प्रयासरत है कि वे अपने वार्ड में हो रहे निर्माण की निगरानी रख सकें ताकि सिरसा के कथित भ्रष्ट नेताओं द्वारा की जा रही सरेआम लूट पर अंकुश लगा कर शहर का वास्तविक विकास किया जा सके, परन्तु प्रशासन द्वारा अभी तक सूचना बोर्ड नहीं लगवाये गये है। आज के धरने पर पार्टी के जिला महासचिव ताराचन्द फौजी, जिला मीडिया प्रभारी राकेश जैन, वरिष्ठ नेता ओमप्रकाश कपड़ेवाला, युवा जिलाध्यक्ष राजन हिंदुस्तानी, संगठन मंत्री महाबीर कंडेला, उपाध्यक्ष प्रमोद वधवा, उपाध्यक्ष हरीश गर्ग, एस.सी. विंग जोन अध्यक्ष राजकुमार नागर, हनुमान जांदू्र, अमन कम्बोज आदि मौजूद थे।

सिरसा से सतीश बंसल की रिपोर्ट

13 COMMENTS

  1. This web page is mostly a stroll-through for the entire info you wanted about this and didn’t know who to ask. Glimpse right here, and also you’ll positively uncover it.

  2. Good day very nice web site!! Guy .. Beautiful .. Wonderful .. I’ll bookmark your blog and take the feeds additionally…I am happy to find a lot of helpful info here within the post, we want develop more strategies in this regard, thank you for sharing. . . . . .

  3. Thank you so much for providing individuals with such a spectacular opportunity to check tips from this web site. It can be very great and full of amusement for me personally and my office fellow workers to visit the blog no less than 3 times in 7 days to study the fresh tips you will have. And lastly, I’m just always contented for the tremendous points served by you. Selected 3 tips on this page are without a doubt the very best I have had.

  4. I’ve been searching for hours on this topic and finally found your post. baccaratsite, I have read your post and I am very impressed. We prefer your opinion and will visit this site frequently to refer to your opinion. When would you like to visit my site?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here