बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने रिया चक्रवर्ती को सुशांत सिंह राजपूत कि मौत का आरोपी कहा

0
40

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि रिया चक्रवर्ती हमारी आरोपी है, हमारी पुलिस जांच कर रही है, सबूत मिलते ही अब रिया की गिरफ्तारी करेंगे। डीजीपी ने कहा कि मुंबई पुलिस हमें जांच करने नहीं दे रही है। अभी तक सुशांत के पैसे को लेकर कोई जांच ही नहीं की गई। उन्होंने कहा कि हमारे आईपीएस से बंदी जैसा व्यवहार किया जा रहा है। डीजीपी ने कहा कि अभी हमारे पास सबूत नहीं है। हमारी टीम मुंबई इसी लिए वहां गई है। उन्होंने कहा कि हम किसी भी बेगुनाह को गिरफ्तार नहीं करेंगे हमारी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है, लेकिन अगर सबूत मिले तो किसी को छोड़ा नहीं जाएगा। सबूत मिलते ही गैर जमानती वारंट जारी होगा। उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस हमें सहयोग नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि लोग मुबंई पुलिस के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस को हमें सहयाेग करना होगा। क्वारंटाइन गाइडलाइंस की जांच की: बिहार के डीजीपी ने पटना के एसपी सिटी को मुंबई में क्वारंटाइन करने पर कहा कि हमने क्वारंटाइन गाइडलाइंस की जांच की। इसकी कोई जरूरत नहीं थी। यदि कोई अधिकारी सूचना देकर, वाहन और आवास के इंतजाम की अनुरोध कर गया है तो तो वो सिक्रेटली नहीं गया था। एसपी विनय तिवारी ने पत्र लिखकर बांद्रा के डीसीपी को अपने आने की सूचना दे दी थी। डीजीपी ने कहा कि उस नियम को कोट करते हुए पटना के आईजी संजय सिंह बीएमसी के चीफ को एक पत्र लिख रहे हैं। मुंबई कमिश्नर ने भी रखी अपनी बात: साेमवार को मुंबई के पुलिस कमिश्नर ने भी मीडिया से बात की। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या करने से दो घंटे पहले गूगल पर अपना नाम सर्च किया था। इसके अलावा, उन्होंने बाइपोलर डिसऑर्डर, बिना दर्द की मौत जैसे शब्द को सर्च किया। उन्होंने कहा कि  मुंबई पुलिस ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में किसी को भी क्लीन चिट नहीं दी है। सुशांत मामले में मुंबई पुलिस ने विस्तार से जांच की है। अभी भी पुलिस की जांच जारी है। अभी तक किसी निष्कर्ष तक नहीं पहुंचे हैं। इस मामले में अभी तक 56 लोगों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं। हर एंगल से जांच की जा रही है फिर चाहे वह पेशेवर प्रतिद्वंद्विता, वित्तीय लेनदेन या स्वास्थ्य से जुड़ा हो। मुंबई पुलिस की जांच में सामने आया है कि जब सुशांत का नाम दिशा सलियन के साथ जोड़ा गया, तब वह काफी परेशान हो गए थे। जांच के अनुसार, दिशा सलियन के साथ सुशांत सिंह राजपूत की मुलाकात सिर्फ एक बार ही हुई थी। सोशल मीडिया पर दिशा सलियन के साथ जोड़े जाने की वजह से वह काफी इमोशनल हुए थे। सुशांत के अकाउंट से रिया चक्रवर्ती के अकाउंट में पैसे ट्रांसफर किए जाने के आरोपों पर मुंबई पुलिस ने कहा कि अभी तक इसको लेकर कोई भी सबूत नहीं मिला है। हालांकि, जांच चल रही है। वित्तीय लेनदेन को लेकर जांच की जा रही है। सुशांत के चार्टर्ड अकाउंटेंट का बयान दर्ज किया जा चुका है। वहीं, जो पहले सीए थे, उनसे भी मुंबई पुलिस ने बात की है। पटना सिटी एसपी को क्वारंटाइन में रखना सही नहीं है,मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा।
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच के लिये पटना से मुंबई गये आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को जबरन क्वारंटाइन में में भेजे जाने को अनुचित बताया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह विषय राज्य के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय ने महाराष्ट्र के अधिकारियों के समक्ष उठाया है। यह पूछे जाने पर कि क्या इस विषय को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बारे में वह कुछ कहना चाहेंगे, नीतीश कुमार ने कहा, ‘यह कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है। यह बिहार पुलिस के एक कानूनी दायित्व का विषय है। हम इसे पूरा करने की हरसंभव कोशिश करेंगे। (UNA)