बीबीए की छात्रा पिस्टन की नोक पर अगवा कर गैंगरेप की घटना के आरोपी हिरासत में।

0
44

पटना,08 जन्वरी।

पिस्टल दिखाकर मॉल के बाहर से युवती को अगवा किया, फ्लैट पर ले जाकर दुष्कर्म किया, दो गिरफ्तार किए गए। पीड़ित महिला और उसके भाई महिला थाना पहुंचकर युवती ने चार लड़कों के खिलाफ दर्ज कराया केस।तबीयत बिगड़ने पर मनचले लड़की को कहीं लेकर जा रहे थे, ट्रैफिक सिग्नल पर बचकर भाग निकली। फ्लैट पर दो लड़के विनायक सिंह और संदीप मुखिया ने रेप किया। दो अन्य कुश और विकास अपार्टमेंट के बाहर में हथियार के साथ निगरानी कर रहे थे।

राजधानी में 20 साल की बीबीए सेकंड ईयर की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म हुआ है। बोरिंग रोड चौराहे के पास जीवी मॉल से छात्रा को चार युवकों ने पिस्टल की नोक पर कार में जबरन बैठाया। फिर उसे पाटलिपुत्र कॉलोनी थाना इलाके में पी एण्ड एम मॉल के पीछे एक अपार्टमेंट के चौथे तल्ले पर ले जाकर दुष्कर्म किया। इन चारों में शामिल विनायक सिंह और संदीप मुखिया ने रेप किया। संदीप ने अश्लील वीडियो भी बनाई। विनायक और संदीप ने धमकी दी कि किसी को बताया तो वीडियो वायरल कर देंगे। जान से भी मार डालेंगे। दो अन्य कुश और विकास अपार्टमेंट के बाहर में निगरानी कर रहे थे।

घिनौनी हरकत करने के बाद छात्रा को कार से लेकर चले। कार में भी रेप की कोशिश की और बोरिंग रोड चौराहे के पास ट्रैफिक सिग्नल पर बचकर भाग निकली।यहां से पीड़िता ऑटो से नेहरूनगर अपनी दीदी के पास पहुंची और सारी बात बताई। चारों पर केस दर्ज किया गया है। एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने घटनास्थल पर छापेमारी की और कुश को गिरफ्तार कर लिया। बाद में विकास भी पकड़ा गया। पालीगंज में संदीप और हाजीपुर में विनायक के घर भी छापेमारी की। दोनों फरार हैं। जहां घटना हुई वहां कुश रहता है। पीड़िता नोएडा स्थित एक संस्थान से बीबीए का डिस्टेंस कोर्स कर रही है। वह बहन के साथ नेहरूनगर में रहती है। संदीप उसका ब्वॉय फ्रेंड है।

विधायक का रह चुका है शागिर्द बताया जाता है कि विनायक सिंह बोरिंग रोड में रहता है। हाजीपुर का है। फायरिंग-मारपीट में जेल गया था। नशेड़ी है। शराब का धंधा करता है। वहीं संदीप मुखिया पटना में पार्किंग का ठेका लेता है। दुल्हिन बाजार का है। मुखिया का चुनाव लड़ा था। जगदेव पथ में रहता है। शादीशुदा है।कुश पहले एक विधायक के साथ रहता था। छोटा-मोटा ठेका लेता है। मोकामा का रहने वाला है।विकास मोकामा का है। एक विधायक के साथ रहता था। छोटा-मोटा ठेकेदारी करता है। शादीशुदा है। कार इसी की थी।

महिला थाना पहुंचने के बाद विनायक ने छात्रा को फोन कर धमकाया था| चौंकाने वाली बात यह है कि महिला थाना की पुलिस जब छात्रा को महिला थाना लेकर आ गई तो सोमवार की देर रात उसने कई बार उसे फोन करके धमकाया था। उसने कहा कि था कि अगर किसी को बोली तो नतीजा बुरा होगा। तुमको और तुम्हारे परिवार को बर्बाद कर देंगे। अगर पुलिस रात में ही छापेमारी शुरू कर देती तो चारों गिरफ्तार हो जाते।पुलिस के अनुसार मंगलवार को जब मीडिया में गैंगरेप और इन चारों का नाम आया था, तब सभी का मोबाइल खुला हुआ था। चारों पटना में ही अलग-अलग स्थान पर रहकर आपस में बातचीत कर रहे थे। दो बजे तक सबों का मोबाइल खुला हुआ था उसके बाद सबने गिरफ्तारी की डर से मोबाइल बंद कर दिया। सोशल मीडिया पर भी एक्टिव थे। सभी ने पोस्ट डिलीट कर दिया।

दो दिन पहले रिलेशन बनाने को कहा, मना किया तो जबरन कार में बैठाया पीड़िता ने महिला थाना में बताया कि दो दिन पहले भी विनायक ने जीवी मॉल में रिलेशन बनाने को कहा था। मैंने इनकार कर दिया। सोमवार को मॉल में खाना खाने आई थी। विनायक पहले से वहां मौजूद था। हमको देखकर पास आ गया और कहने लगा कि हमारे साथ रिलेशन बना लो। रविवार को भी हम वैशाली से पटना आए और सोमवार को भी इसीलिए आए थे। रिलेशन बना लोगी तो खुश रहोगी। बाहर निकल कर जा रही थी तो कार सामने आ गई। उनलोगों में से किसी ने पिस्टल भिड़ा दी और कार में जबरन बैठा लिया। कार बोरिंग रोड चौराहा पर रोक दिया। उसे लॉक कर दिया। मैं चिल्लाने लगी पर मेरी आवाज किसी ने नहीं सुनी।

जिस कार से गई धकेल कर उसे किया स्टार्ट जिस कार से बीबीए की छात्रा को ले जाया गया, वह उजले रंग की कार मॉल परिसर में रुक गई थी। उसे गार्ड ने धकेला था। स्टार्ट होने के बाद फिर यह रुक गई। इसके बाद आगे से धकेला गया।दुष्कर्म करने के बाद दरिंदों ने पी़डिता का वीडियो बनाय़ा और वीडियो वायरल करने की धमकी दिए।लड़की ने घर पहुंचकर अपने भाई के साथ महिला थाने में विनायक सिंह, कुश, संदीप मुखिया और विकास नाम के युवकों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है। वारदात में पुलिस ने दो आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता बिहार के गोपागंज जिले की रहने वाली है।वह पटना में रह कर BBA की पढ़ाई कर रही थी।