बॉयफ्रेंड के कहने पर नाबालिग बहन ने लगाया था रेप का झूठा आरोप, 2 साल जेल में रहकर छूटा भाई

0
37

मुंबई; महाराष्ट्र की राजधानी मुंबएक शख्स को दो साल के कारावास के बाद जेल से आजाद किया गया है। 2 साल पहले इस शख्स को अपनी नाबालिग बहन के साथ बार-बार रेप करने के आरोप में जेल भेजा गया था। अब पॉक्सो कोर्ट में आरोप लगाने वाली बहन ने स्वीकार किया है कि ये केस झूठा था और बलात्कार का आरोप उसने अपने प्रेमी के कहने पर लगाया था। अदालत में इस बात के सामने आने के बाद कोर्ट ने आरोपी भाई को रिहा करने का आदेश दिया है।रेप का आरोप लगाने वाली लड़की ने कोर्ट में कहा कि वो अपने बॉयफ्रेंड के साथ बाहर घूमने जाती थी, जिसपर उसका भाई उसे रोकता था। इसके कारण वह भाई से नाराज रहती थी। लड़की का कहना है कि उसके भाई ने उसे बचाने की कोशिश की। वह इससे नाराज थी और प्रेमी के कहने पर ही भाई के खिलाफ केस दर्ज कराया था। लड़की की इस बात पर अदालत ने मुकदमे को ही गलत माना और युवक को रिहा करने का आदेश दिया।
2017 में रेप होने का आरोप लगाया था
इससे पहले लड़की ने कोर्ट को बताया था कि अगस्त 2017 में उसके भाई ने उसका रेप किया था। लड़की का आरोप था कि घटना उस वक्त हुई, जबकि उसकी मां नाइट शिफ्ट में ड्यूटी कर रही थी और पिता घर से बाहर थे। लड़की ने कहा कि नवंबर 2018 में फिर रेप की घटना हुई। हालांकि परिवार से कहने के बाद माता-पिता ने पुलिस को इसकी जानकारी नहीं दी। 2019 में कराई गई एफआईआर
फरवरी 2019 में युवती ने खुद पुलिस स्टेशन जाकर एफआईआर दर्ज कराई। इसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। मामले की दो साल तक सुनवाई होने के बाद युवती अपने आरोपों से पलट गई। युवती ने कहा कि चूंकि उसके भाई ने एफआईआर कराने के रोज उसकी पिटाई की थी, ऐसे में उसने गुस्से में उसके खिलाफ एफआईआर करा दी।